चीन की ‘जीरो कोविड पॉलिसी’ देखें :-आधी रात को कहा जा रहा, घर छोड़ो और कैंप में चलो

 
चीन अपनी ‘जीरो कोविड पॉलिसी’ के तहत अपने ही नागरिकों से खिलवाड़ कर रहा है। सोशल मीडिया में आए कुछ वीडियो से पता चलता है कि लाखों लोगों को जहां क्वारंटाइन शिविरों में रखा गया है, वहीं कई संक्रमित मरीजों को मेटल बॉक्सों में कैद कर दिया गया है। अगले माह चीन विंटर ओलिपिंक की मेजबानी करने वाला है, इसे देखते हुए सख्ती और बढ़ा दी गई है।
सोशल मीडिया में चीन के वीडियो वायरल हो रहे हैं। इनसे पता चलता है कि सख्त पाबंदियों के नाम पर वहां नागरिकों के साथ किस तरह का व्यवहार हो रहा है। यह किसी बुरे सपने से कम नहीं है। गर्भवती महिलाओं, बच्चों व बुजुर्गों को भी मेटल के इन बॉक्सों में रखा जा रहा है। कोविड संक्रमितों होने पर इन बॉक्सों में दो सप्ताह के लिए कैद कर दिया जाता है। इनमें लकड़ी के पलंग व टॉयलेट बनाए गए हैं।

खबरों में कहा गया है कि यदि किसी क्षेत्र में एक संक्रमित भी मिल जाए तो पूरे इलाके के लोगों को क्वारंटीन किया जा रहा है। उन्हें बसों में भर भरकर कैंपों में ले जाया जा रहा है। कहा गया है कि संक्रमित मिलने पर कई इलाकों के लोगों को आधी रात को कहा जाता है कि उन्हें घर छोड़ना होगा और क्वारंटीन कैंप में चलना होगा। चीन में संक्रमितों व उनके संपर्क में आए लोगों का पता लगाने की भी सख्त नीति है। इसके तहत हर व्यक्ति को ‘ट्रैक एंड ट्रेस’ एप्स अपने मोबाइल में रखना जरूरी है। इसके जरिए किसी व्यक्ति के संक्रमित होने पर उसके संपर्क में आए सारे लोगों का पता लगाकर उन्हें क्वारंटीन कैंपों में भेज दिया जाता है।

HENAN PROVINCE ANYANG CITY
BUS AFTER BUS!
AUTHORITY IS BUSY SENDING THESE PRIMARY SCHOOL KIDS OFF TO COVID QUARANTINE CAMPS!
SOME KIDS WILL BE LOCKED UP ALONE WITHOUT THEIR PARENTS GUARDIANSHIP!
2022/1/13 PIC.TWITTER.COM/U76KISCYFT

— Songpinganq (@songpinganq) January 13, 2022

उधर, चीन के तियानजिन शहर में बीते दिनों ओमिक्रॉन के केस मिलने के बाद हड़कंप मच गया है। लोगों को लॉकडाउन की आशंका है, इसलिए वे घबराहट में खाने पीने के सामान की खरीदारी कर रहे हैं। 

TIANJIN CITY
PEOPLE DON'T TRUST CHINESE GOVERNMENT PROPAGANDA ANYMORE AFTER WATCHED WHAT HAPPENED TO THE PEOPLE OF WUHAN AND XI'AN.
POLICE URGING PEOPLE DON'T DO PANIC BUYING BUT PEOPLE DON'T TRUST HIM. THEY RUSHED TO FOOD TRUCKS TO BUY FOOD ON THE ROADS. PEOPLE AFRAID LOCKDOWN. PIC.TWITTER.COM/MRFTQ8UMSF

— Songpinganq (@songpinganq) January 11, 2022

LOCKDOWN IN CHINA MEANS YOU MAY STARVE TO DEATH.
SO THESE PEOPLE ARE ESCAPING!
2021.12.21 8PM PIC.TWITTER.COM/RAVOFVQ57X

— Songpinganq (@songpinganq) December 21, 2021

किसी शहर में लॉकडाउन लग गया तो समझो मौत तय है। इसी डर के मारे कुछ लोग शहर छोड़कर भागते भी नजर आए। 

From around the web