यूएसआईबीसी ने भारतीय अर्थव्यवस्था में विश्वास जताया, सुधार पथ को सराहा

 

अमेरिका-भारत व्यापार परिषद (यूएसआईबीसी) के सदस्यों ने भारतीय अर्थव्यवस्था में विश्वास जताया है। भारतीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के साथ यहां हुई बैठक में परिषद ने भारत के सुधार पथ की प्रशंसा की और विकसित होती भारतीय अर्थव्यवस्था में विश्वास व्यक्त किया। यूएसआईबीसी ने भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) के साथ मिलकर एक संवाद सत्र आयोजित किया था, जिसमें वित्त मंत्री अतिथि थीं। यूएसआईबीसी ने इस सत्र के बाद कहा, ‘हमने उनके सुधार पथ की प्रशंसा की और अमेरिका तथा भारत के बीच वाणिज्यिक संबंधों को मजबूत करने के नए अवसरों पर चर्चा की।’

वित्त मंत्रालय ने बताया कि व्यापार जगत के नेताओं ने भविष्य में विकास के वास्ते मार्ग प्रशस्त करने के लिए मंत्री का शुक्रिया अदा दिया और कोविड-19 वैश्विक महामारी के दौरान अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए भारत सरकार को बधाई दी। सत्र में शामिल हुए व्यापार जगत के लोगों ने भारत में अपने निवेश को बढ़ाने में गहरी रुचि व्यक्त की। ‘एमवे’ के सीईओ मिलिंद पंत, ‘जनरल एटॉमिक्स’ के मुख्य कार्यकारी विवेक लाल, ‘टेलुरियन’ के अध्यक्ष एवं सीईओ ऑक्टेवियो सिमोस, ‘सिनक्लेयर ब्रॉडकास्टिंग ग्रुप’ के अध्यक्ष एवं सीईओ क्रिस रिप्ले, और ‘सेफसी समूह’ के अध्यक्ष एसवी अंचन सत्र में शामिल हुए। अमेरिका में भारत के राजदूत तरनजीत सिंह संधू ने भी बैठक को संबोधित किया। सत्र को यूएसआईबीसी अध्यक्ष निशा देसाई बिस्वाल की अध्यक्षता में आयोजित किया गया था।

From around the web