तालिबान ने लिया निर्णय, नई सरकार के शपथ ग्रहण पर नहीं होगा कोई समारोह

 

अफगानिस्तान में तालिबान की अंतरिम सरकार का गठन किया जा चुका है। इसके साथ ही तालिबान ने नई सरकार का शपथ ग्रहण समारोह न करने का निर्णय लिया है। तालिबान के कल्चरल कमीशन के सदस्य इनामुल्ला समांगानी ने कहा कि देश की अंतरिम सरकार को चिह्नित करने वाले उद्घाटन समारोह को रद्द कर दिया है।

अफगान सरकार के सांस्कृतिक आयोग के सदस्य इनामुल्ला समांगानी ने ट्वीट कर कहा है कि नई अफगान सरकार का शपथ ग्रहण समारोह कुछ दिन पहले रद्द कर दिया गया था। लोगों को भ्रम से बचाने के लिए इस्लामिक अमीरात के नेतृत्व ने कैबिनेट का ऐलान किया और इसने अब काम करना शुरू कर दिया है। तालिबान ने समारोह में रूस, ईरान, चीन, कतर और पाकिस्तान को आमंत्रित किया था। हालांकि, मॉस्को ने कथित तौर पर कतर को सूचित किया कि अगर यह 9/11 की बरसी पर आयोजित होता है तो वह समारोह में भाग नहीं लेगा। पश्चिमी देशों और तालिबान के बीच रिश्तों को ठीक करने में कतर काम कर रहा है।

उधर, पंजशीर घाटी पर कई दिनों की कोशिशों के बाद भी तालिबान कब्जा नहीं कर सका है। देश में सिर्फ पंजशीर घाटी ही ऐसा प्रांत है, जिसके ज्यादातर हिस्से पर तालिबान नहीं, बल्कि रेसिस्टेंस फोर्स का कब्जा है। घाटी में चल रही लड़ाई के दौरान ही तालिबानी लड़ाकों ने अफगानिस्तान के पूर्व उप-राष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह के बड़े भाई की बेरहमी से हत्या भी कर दी है।

From around the web