पीएम मोदी की इजरायल यात्रा पर पाक पीएम इमरान खान ने उठाए सवाल

 

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान बिना किसी जानकारी के कुछ भी बोल देते हैं. अब एक बार फिर अपनी इस ‘बीमारी’ की वजह से उनका मजाक उड़ रहा है. इमरान खान ने एक इंटरव्‍यू में दावा किया कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इजरायल यात्रा के बाद जम्‍मू-कश्‍मीर में अनुच्‍छेद 370 को खत्‍म किया था. जबकि हकीकत ये है कि पीएम मोदी ने इजरायल की यात्रा जुलाई 2017 में की थी, वहीं जम्‍मू-कश्‍मीर का विशेष दर्जा साल 2019 में खत्‍म किया गया था.

इमरान खान का यह इंटरव्यू सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है और लोग उनका जमकर मजाक उड़ा रहे हैं. दरअसल, पाकिस्तानी प्रधानमंत्री यह कहना चाह रहे थे कि पीएम मोदी की इजरायल यात्रा के वक्त ही जम्मू-कश्मीर को लेकर रणनीति तैयार हुई और वापसी पर अनुच्‍छेद 370 हटाने की घोषणा कर दी गई. जबकि पीएम मोदी की इजरायल यात्रा के करीब दो साल बाद जम्‍मू-कश्‍मीर से अनुच्‍छेद 370 को खत्‍म किया था.

इमरान ने इंटरव्‍यू में यह भी माना कि भारत और इजरायल की दोस्‍ती बहुत मजबूत है. इसी इंटरव्‍यू में इमरान ने पाकिस्तानी क्रिकेट पर भी बात की और बीसीसीआई को दुनिया का सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड करार दिया. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के साथ दौरा रद्द करके इंग्लैंड ने खुद को नीचे गिराया. मुझे लगता है कि इंग्लैंड के भीतर यह भावना है कि वह पाकिस्तान जैसे देशों के साथ खेलकर अहसान करते हैं. इसका कारण है पैसा क्योंकि पैसा ही अब सबसे बड़ा खिलाड़ी है.

इमरान खान ने कहा कि कोई भी भारत के साथ ऐसा करने की हिम्मत नहीं करेगा, क्योंकि उन्हें पता है कि भारत बहुत अधिक पैसा जनरेट करता है. वहीं, अफगानिस्तान में तालिबान सरकार के साथ अंतरराष्ट्रीय समुदाय को जोड़ने पर बल देते हुए खान ने कहा कि 20 साल के गृहयुद्ध ने देश को तबाह कर दिया है. तालिबान सरकार अंतरराष्ट्रीय मंजूरी हासिल करने की कोशिश कर रही है. अफगानिस्तान को अलग-थलग करने और प्रतिबंध लगाने से बड़े पैमाने पर मानवीय संकट पैदा होगा.

From around the web