उत्तर कोरिया का दावा, अब तक है कोरोना मुक्त

 

हाल ही में विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) को पेश की गई रिपोर्ट में उत्तर कोरिया ने अपने नागरिकों के कोरोना मुक्त रहने का दावा किया है।  

उत्तर कोरिया ने कोरोना महामारी की शुरुआत में अपने देश को महामारी से मुक्त रखने को ‘राष्ट्र के अस्तित्व का सवाल’ करार दिया था। उसने अपनी सीमाओं को बंद कर दिया था, यात्रियों पर प्रतिबंध लगा दिया था और राजनयिकों को भी देश से बाहर कर दिया था। साथ ही जिन लोगों में कोरोना के लक्षण पाए गए, उन्हें अलग कर दिया गया। अब इसके बाद भी उत्तर कोरिया  का कहना है कि वहां पर कोरोना का कोई भी मामला दर्ज नहीं हुआ है। 

देश में हो रहा करोबार भी चीन के साथ है और देश की अर्थव्यवस्था के लिए जीवनरेखा के समान है। उत्तर कोरिया में विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रतिनिधि एडविल सल्वाडोर ने मीडिया को ईमेल के जरिए बताया कि उत्तर कोरिया में महामारी की शुरुआत से 23 हजार,121 लोगों के कोरोना टेस्ट किए जा चुके हैं। इन सभी के नतीजे नेगेटिव आए हैं। सल्वाडोर ने बताया कि 26 मार्च से लेकर 1 अप्रैल तक 732 लोगों के टेस्ट किए गए हैं। 

डब्ल्यूएचओ के अधिकारियों ने बताया कि उत्तर कोरिया ने अभी तक एकांतवास में भेजे गए लोगों की संख्या के बारे में कुछ नहीं बताया है। इसके पहले उत्तर कोरिया ने मंगलवार को घोषणा की थी कि वह टोक्यो में होनेवाले ओलंपिक गेम्स में भाग नहीं लेगा। 

From around the web

>