अमेरिकियों 16.5 करोड़ बार खोजा-पत्नी को कैसे काबू करें

 

 पिछले साल जब दुनियाभर के लोग कोरोना से निपटने और जिंदगी बचाने के तरीके खोज रहे थे, पढ़ाई और बिजनेस पटरी पर लाने के लिए इनोवेशन में जुटे थे, उस दौरान अमेरिकी पुरुष गूगल पर खोज रहे थे कि पत्नी को कैसे काबू करें। उन्हें प्रताडि़त कैसे करें कि किसी को पता न चले। यह शर्मनाक खुलासा न्यूजीलैंड की ओटागो यूनिवर्सिटी की स्टडी में हुआ है। यूनिवर्सिटी ने अमेरिका में 2020 के गूगल सर्च की ट्रैकिंग की तो ये नतीजे सामने आए। करीब 16.5 करोड़ बार तो गूगल से पूछा गया कि पत्नी को कैसे कंट्रोल करें और उनके साथ मारपीट कैसे करें कि पता न चले। हालांकि साल की शुरुआत में आई रिपोट्र्स में यह जरूर खुलासा हुआ था कि कोरोना के दौर में दुनियाभर में महिलाओं के साथ घरेलू हिंसा बढ़ी है, पर स्थिति इतनी भयावह है, यह ताजा स्टडी से पता चला है। जर्नल टेलर एंड फ्रांसिस में प्रकाशित इस स्टडी की लेखिका कैटरिना स्टेंडिश बताती हैं कि अमेरिका आधारित इस स्टडी में रुचि को लेकर अनिश्चितता, असुरक्षा, हताशा, बेबसी, पुरुषों द्वारा की जाने वाली सांकेतिक इरादे के साथ की गई हिंसा जैसे पैमाने रखे गए थे। स्टडी के अनुसार महिलाओं के साथ दुव्र्यवहार की घटनाएं 2020 में 31 फीसदी से बढ़कर 106 फीसदी तक पहुंच गईं। कैटरिना बताती हैं कि इनसे जुड़े शब्दों को सर्च इंजन पर डालने से जो नतीजे सामने आए, उन्हें आकड़ों के रूप में हमने जस का तस रख दिया, ताकि असलियत सामने आ सके। एक तरफ तो लाखों लोग ऑनलाइन मदद की उम्मीद लगाए बैठे हैं, वहीं दूसरी तरफ इसी प्लेटफॉर्म पर घटिया मंसूबे दिख रहे हैं। कैटरिना के मुताबिक, उनका मकसद दुनिया को इस सच्चाई से रूबरू कराना था कि कोरोनाकाल में घरों में क्या घट रहा है। अमेरिका के आंकड़े तो सिर्फ बानगी है, दुनियाभर में महामारी के दौरान महिलाओं को काफी परेशानी हुई और जहां तक मेरा मानना है कि उन्हें कोई मदद भी नहीं मिली।

From around the web

>