अमेरिका से चिकित्सा सामग्री भारत आने में हुई देरी, इजराइल भी करेगा सहायता

 

भारत में बेकाबू कोरोना वायरस के संक्रमण होने के बाद विश्व के विभिन्न देशों से मिलने वाली मदद बदस्तूर जारी है। इसी कड़ी में अमेरिका से आने वाली चिकित्सा सामाग्री आने में देरी हो गई है। सोमवार को आने आने वाला विमान अब बुधवार तक पहुंचने का अनुमान है। इस देरी पर पेंटागन ने बताया कि रखरखाव संबंधी कारणों से यह देरी हुई है। वायु सेना के तीन सी-5 सुपर गैलेक्सी विमानों और एक सी-17 ग्लोबमास्टर को सोमवार को भारत रवाना होना था। लेकिन ये विमान निर्धारित समय पर उड़ान नहीं भर सका।

इससे पहले दिन में पेंटागन के प्रेस सचिव जान किर्बी ने संवाददाताओं को बताया था कि अमेरिकी विमानों के जरिये भारत में चिकित्सा सहायता की आपूर्ति जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस महामारी के कारण संकट से जूझ रही भारत की सरकार और वहां की जनता को हमारी सहायता जारी रहेगी।

इजराइल जीवन रक्षक उपकरण भेजेगा

कोरोना वायरस से लड़ाई में मदद के लिए इजराइल जीवन रक्षक उपकरण भारत भेजेगा। जो चिकित्सा सामग्री भेजी जाएगी, उनमें आक्सीजन जेनेरेटर और श्वासयंत्र शामिल हैं। विदेश मंत्री गबी अश्केनाजी ने एक बयान जारी कर कहा कि भारत इजरायल के सबसे करीबी और महत्वपूर्ण मित्रों में शामिल है। भारत की मुश्किल घड़ी में हम उसके साथ खड़े हैं। हम अपने भारतीय भाइयों और बहनों के लिए जीवन रक्षक सामग्री भेजेंगे।

भारतीय मूल के तीन भाई-बहनों ने 2.80 लाख डालर जुटाए

कोरोना से लड़ाई में भारत की मदद करने के लिए भारतीय मूल के तीन भाई-बहनों ने 2.80 लाख डालर (लगभग दो करोड़ रुपये) जुटाए हैं। एनजीओ लिटल मेंटर्स के संस्थापक तीनों भाई-बहनों ने अपने स्कूली मित्रों और उनके स्वजनों की सहायता से यह राशि जुटाई है। इस राशि का इस्तेमाल वे भारत के लिए आक्सीजन कंसंट्रेटर और वेंटिलेटर का इंतजाम करने में करेंगे। स्कूल में पढ़ने वाली जिया, करीना और अरमान गुप्ता ने कहा कि हमारा अनुरोध सिर्फ इतना है कि काम के बाद इन उपकरणों को लौटा दिया जाए, ताकि यह अन्य मरीजों के काम आ सके।

अमेरिकी सांसदों ने मदद को लिखा पत्र

अमेरिका के चार सांसदों के एक समूह ने विदेश मंत्री टोनी ब्लिंकन और स्वास्थ्य और मानव सेवा मंत्री जेवियर बेसेरा को लिखे पत्र में बाइडन प्रशासन से इस बात की जानकारी मांगी है कि वह भारत और अन्य देशों को वैक्सीन उपलब्ध कराने को लेकर किस तरह की योजना बना रहा है। सांसदों ने छह करोड़ एस्ट्राजेनेका वैक्सीन अन्य देशों को मुहैया कराने के फैसले का भी स्वागत किया है। पत्र लिखने वाले सांसदों में राजा कृष्णमूर्ति, कैरोलिन मैलोनी, जेम्स क्लायबर्न और स्टीफन शामिल हैं।

हॉलीवुड स्टार मैकएवाय ने की भारत के मदद की अपील

हॉलीवुड स्टार जेम्स मैकएवाय ने अपने प्रशंसकों से कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर का सामना कर रहे भारत की मदद की अपील की है। एक्स-मैन और अनब्रेकेबल के प्रसिद्ध अभिनेता ने इंस्टाग्राम पर क्राउडफंडिंग अभियान शुरू करने का एलान किया।

WhatsAppFacebookTwitterEmailCopy LinkShare

From around the web

>