अमेरिका ने अपने नागरिकों को दी ब्रिटेन की यात्रा से बचने की सलाह

 

अमेरिका ने अपने नागरिकों को ब्रिटेन की यात्रा से बचने की सलाह दी है। ब्रिटेन में डेल्टा कोरोना वायरस संक्रमण में बीते कुछ दिनों की शांति के बाद जून के आखिर से फिर मामलों में तेज उछाल दर्ज किया जा रहा है। सोमवार से ब्रिटेन में कोरोना संबंधित सभी तरह के प्रतिबंधों को समाप्त कर दिया गया।

यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) ने देश के लोगों से ब्रिटेन की यात्रा नहीं करने की अपील की है ताकि वहां फैले डेल्टा वेरिएंट को देश में आने से रोका जा सके। साथ ही सीडीसी ने एक एडवाइजरी जारी करते हुए कहा है कि अगर जरूरी तौर से यूनाइटेड किंगडम की यात्रा करनी है, तो यात्रा से पहले ये सुनिश्चित करना जरूरी हो जाता है कि आपका टीकाकरण पूरा हो चुका हो।

सीडीसी ने ब्रिटेन को अपने कोविड-19 संक्रमण के स्केल के उच्चतम पैमाने, चौथे स्तर पर रखा है। साथ ही चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि यूके की यात्रा के दौरान पूरी तरह से टीकाकरण करा चुके यात्री भी संक्रमित होने और संक्रमण फैलाने के जोखिम का शिकार हो सकते हैं।

गौरतलब है कि लॉकडाउन में छूट के बाद ब्रिटेन के लोगों ने इस दिन को ‘फ्रीडम डे’ के तौर पर मनाया है। इस बीच ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने प्रतिबंध समाप्त होने के बावजूद लोगों से एहतियात बरतने की अपील की है। यहां संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी के बावजूद लॉकडाउन को समाप्त कर दिया गया है। इसके पीछे तर्क दिया जा रहा है कि ब्रिटेन में टीकाकरण का उच्च स्तर संक्रमण को नियंत्रित करने में सहायक होगा।

सोमवार को ब्रिटेन में महामारी के शुरुआत से अब तक कोविड-19 संक्रमण के कुल 55 लाख मामलों के साथ, करीब एक लाख तीस हजार मौतें दर्ज की गई हैं। बीते एक महीने के दौरान नाटकीय ढंग से संक्रमण के मामलों में वृद्धि दर्ज की गई है। जून के अंत से प्रतिदिन के हिसाब से करीब 40 हजार मामले दर्ज किए जा रहे हैं।

From around the web