Sunday, June 26, 2022
HomeNationalUrban body elections BJP नगरीय निकाय चुनाव छोटे चुनाव

Urban body elections BJP नगरीय निकाय चुनाव छोटे चुनाव

भोपाल। प्रदेश में नगरीय निकाय के चुनाव भले ही स्थानीय स्तर के चुनाव माने जाते हो लेकिन दोनों ही दलों के दिग्गज नेता चुनाव प्रचार में पूरी दम दिखाएंगे क्योंकि इन चुनाव के परिणामों से 2023 के लिए वातावरण जो बनना है इसलिए कोई भी दल इन चुनाव में रिस्क नहीं लेना चाहता। भाजपा की ओर से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा ने दौरे और सभाएं शुरू कर दी है। इंदौर के बाद सतना में चुनावी सभा में संबोधित किया।

यहां मुख्यमंत्री चौहान ने कहां की हमने सतना के विकास के लिए और सतना स्मार्ट सिटी के लिए 1000 का प्रावधान किया है। कांग्रेस की नजर उस पैसे पर है। उन्होंने कहा सतना के विकास के लिए भाजपा के मेयर और पार्षद प्रत्याशियों को जिताने जिससे ग्रीन और क्लीन सतना बन सके।

वही सिंगरौली में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा ने सिंगरौली को जिला बनाने का काम किया। भाजपा सरकार ने सिंगरौली को मेडिकल कॉलेज और माइनिंग कॉलेज की सौगात दी है। सिंचाई के क्षेत्र में अभूतपूर्व काम भाजपा शासन में हुए हैं। भाजपा ही विकास कराएगी भाजपा प्रत्याशी को भारी बहुमत से जिताये। आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भोपाल में रोड शो करेंगे तो भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा रीवा में महापौर प्रत्याशी के पक्ष में जनसभा को संबोधित करेंगे।

नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह सागर नगर निगम के चुनाव पर फोकस बनाए हुए हैं। गुरुवार को जिले में निर्विरोध निर्वाचित हुए पार्षदों का सम्मेलन भी सागर में हुआ और निर्विरोध जीते पार्षदों से चुनाव वाले क्षेत्रों में काम करने के लिए कहा गया है।

भाजपा की ओर से प्रदेश स्तर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर, पहलाद पटेल, वीरेंद्र कुमार, फग्गन सिंह कुलस्ते और पार्टी पदाधिकारी सक्रिय रहेंगे। वही कांग्रेस पार्टी की ओर से मुख्य प्रचारक प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ रहेंगे पार्टी की ओर से आपका कमलनाथ आपके साथ चलाएगी। आज शुक्रवार को कमलनाथ सिंगरौली से चुनावी अभियान की शुरुआत करेंगे और 26 जून को सागर में रोड शो का कार्यक्रम होगा। इसके अलावा पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह जहां डैमेज कंट्रोल का काम संभाल रहे हैं। वहीं अरुण यादव मालवा क्षेत्र में अजय सिंह क्षेत्र में सक्रिय रहेंगे। सुरेश पचौरी और कांतिलाल भूरिया को भी अपने-अपने क्षेत्रों में सक्रिय रहने के लिए कहा गया है।

कुल मिलाकर चुनाव भले ही छोटे हो पर दोनों ही दलों के दिग्गज नेता पूरा दम इन चुनावों में लगाएंगे। प्रदेश के दोनों दलों के प्रमुख नेता तो सक्रिय हो ही गए हैं। दोनों ही दलों की ओर से प्रचार के लिए राष्ट्रीय नेताओं और फिल्मी कलाकारों को भी बुलाने की योजना है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -