भारत को मिला डिविलियर्स जैसा विस्फोटक बल्लेबाज, बुमराह-बोल्ट जैसे धाकड़ गेंदबाजों की जमकर धुनाई

 

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) से कई प्रतिभावान खिलाड़ी दिए हैं। इस बीच एक और धाकड़ खिलाड़ी निकल कर सामने आया है, जो अपनी तूफानी बैटिंग से हर किसी को अपना मुरीद बना लिया। इस खिलाड़ी को देख कर लगता है कि भारत ने एबी डिविलियर्स जैसे विस्फोटक बल्लेबाज की खोज कर ली है। दरअसल हम बात कर रहें हैं कि मध्य प्रदेश वेंकटेश अय्यर की जो तूफानी बैटिंग से हर किसी को अपना मुरीद बना लिया।

भारत के डिविलियर्स बनकर उभरे वेंकटेश अय्यर ने IPL 2021 में कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) की तरफ से खेलते हुए अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी से जसप्रीत बुमराह और ट्रेंट बोल्ट, एडम मिल्ने और राहुल चाहर जैसे वर्ल्ड क्लास गेंदबाजों की धज्जियां उड़ा दीं हैं। वेंकटेश अय्यर मध्यप्रदेश के इंदौर के रहने वाले हैं और मध्य प्रदेश के लिए घरेलू क्रिकेट खेलते हैं।

20 सितंबर को मिला IPL डेब्यू करने का मौका

वेंकटेश अय्यर इंडियन प्रीमियर लीग में जिस तरह वह दुनिया के खूंखार गेंदबाजों के खिलाफ बेखौफ होकर बल्लेबाजी कर रहे हैं उससे यह लगता है कि आने वाला समय उनका है। वेंकटेश अय्यर मुंबई के खिलाफ ऐसी विस्फोटक पारी खेली जैसे मानो खुद एबी डिविलियर्स बैटिंग कर रहे हों। अय्यर ने 30 गेंदों पर 53 रन ठोके, जिसमें 4 चौके और 3 छक्के शामिल रहे। वेंकटेश अय्यर को IPL 2021 के पहला चरण में खेलने का मौका नहीं मिला, लेकिन जैसे ही कोरोना के बाद IPL 2021 का दूसरा चरण आया, वेंकटेश अय्यर की किस्मत बदल गई। वेंकटेश अय्यर को 20 सितंबर 2021 को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ IPL डेब्यू करने का मौका मिला।

शुरू से ही विरोधी गेंदबाज पर हावी हो जाते हैं अय्यर

अपने पहले ही IPL मैच में अय्यर ने एक छक्के और सात चौकों की मदद से 27 गेंद पर 41 रन की नाबाद पारी खेली और सबको अपने हुनर से वाकिफ करा दिया। पहले मैच में वेंकटेश अय्यर पचासा बनाने से चूके अय्यर ने दूसरे मैच में इसकी भरपाई कर दी। अपनी इस तेज-तर्रार इनिंग्स के जरिए उन्होंने केकेआर को मैच जिताने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। अय्यर ने मुंबई इंडियंस के खिलाफ जसप्रीत बुमराह, ट्रेंट बोल्ट, एडम मिल्ने और राहुल चाहर जैसे गेंदबाजों की धुनाई की, जो दिखाता है कि यह बल्लेबाज किसी से बिना डरे खेलना जानता है।

अय्यर की एक और खास बात है कि वह शुरू से ही विरोधी गेंदबाज पर हावी हो जाते हैं, ऐसे में बॉलर की लय एकदम बिगड़ जाती है, जिसका वह फायदा उठाते हैं। वेंकटेश के करियर का आगाज को प्रॉमिसिंग रहा है, अब देखना होगा कि आगे आने वाले मैचों में वह क्या कमाल करते हैं।

From around the web