Sonia Gandhi Attack Congress केंद्र पर हमले के साथ कांग्रेस चिंतन शुरू

0
46

उदयपुर। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के भाषण के साथ शुक्रवार को उदयपुर में कांग्रेस का तीन दिन का नव संकल्प शिविर शुरू हो गया। सोनिया गांधी ने अपने उद्घाटन भाषण में केंद्र सरकार पर जम कर निशाना साधा और कहा कि वह विभाजनकारी राजनीति कर रही है। उन्होंने  अल्पसंख्यकों पर होने वाले हमले का जिक्र किया और साथ ही केंद्रीय एजेंसियों के दुरुपयोग का मुद्दा भी उठाया और कहा कि केंद्र सरकार एजेंसियों का इस्तेमाल कर विरोधियों को डराने और चुप कराने का प्रयास कर रही है। गौरतलब है कि कांग्रेस का नव संकल्प शिविर 15 मई तक चलेगा, जिसमें संगठन और चुनावी तैयारियों को लेकर अहम फैसले किए जाएंगे।

शिविर के पहले दिन शुक्रवार को सोनिया गांधी ने अपने अध्यक्षीय भाषण में कहा- बीजेपी और केंद्र सरकार देश में डर और असुरक्षा का माहौल पैदा कर रही है। अल्पसंख्यकों को डराया जा रहा है। धर्म के नाम पर पोलराइजेशन किया जा रहा है। उन्होंने कहा- अल्पसंख्यक हमारे देश में बराबर के नागरिक हैं। यह हमारी पुरानी बहुलवादी कल्चर का परिचायक है। विविधता में एकता में हमारी पहचान रही है। सोनिया गांधी ने कहा- आज राजनीतिक विरोधियों को निशाना बनाया जा रहा है, जांच एजेंसियों का दुरुपयोग किया जा रहा है।

इतिहास के साथ छेड़छाड़ की घटनाओं का जिक्र करते हुए सोनिया गांधी ने कहा- इतिहास को फिर से लिखने की कोशिश की जा रही है, जिसमें पंडित नेहरू के योगदान और देश के लिए त्याग को योजनाबद्ध तरीके से कम करके दिखाने का प्रयास हो रहा है। उन्होंने भाजपा और केंद्र सरकार पर हमला करते हुए कहा- ये लोग महात्मा गांधी के हत्यारे का महिमामंडन कर रहे हैं और गांधी के सिद्धांतों को मिटा रहे हैं। सोनिया ने कहा- देश के पुराने मूल्यों को खत्म किया जा रहा है। दलित आदिवासी और महिलाओं में असुरक्षा का माहौल है। देश में डर का माहौल बनाया जा रहा है। देश में लोगों को लड़ाने का बीजेपी लगातार प्रयास कर रही है।

कांग्रेस के नव संकल्प शिविर की मेजबानी कर रहे राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इससे पहले कहा कि यूपीए सरकार के समय में लोग क्या कहेंगे इसका ध्यान रखा जाता था। आज ये लोग धर्म के नाम पर देश पर काबिज हो गए हैं। धर्म जाति ऐसी चीज है कि आप दंगे भड़का सकते हो। गहलोत ने कहा- अब राजस्थान तो टारगेट में नंबर वन है। दंगाई का, सीबीआई, ईडी का छापा शुरू हो जाता है। उन्होंने कहा- हमारी कमजोरी है कि हम काम करते हैं, लेकिन मार्केटिंग नहीं करते। ये झूठे फरेबी लोग हैं, काम कम करते हैं, मार्केटिंग ज्यादा करते हैं।