RTI की मदद से तलाक लेने का पहला मामला आया सामने, काफी अजीबों गरीब हैं इस शख्स की कहानी

अब तक आपने बहुत से तलाक के केस देखें होंगे लेकिन इस शख्स की कहानी आपको भी हैरत में डाल देंगी। जहां दोनों मियां-बीवी की शादी हुई भी और जल्द टूटने की कागार पर आ गई। दरअसल एक युवक का दो साल पहले एक लड़की से रिश्ता तय हुआ था। सगाई के कुछ दिनों बाद ही दोनों में बातचीत का सिलसिला शुरू हो गया था।

प्यार में पड़े उस युवक की शादी का दिन भी आ गया। दोनों की शादी पूरे धूम-धाम से की गई, लेकिन सुहागरात की रात कुछ ऐसा हो गया की ये पूरा मामला अब आरटीआई (RTI) के पास पहुंचा चुका हैं।

पति ने अपनी पत्नी के खिलाफ की थी छानबीन

Rti की मदद से तलाक लेने का पहला मामला आया प्रकाश में, काफी अजीबों गरीब हैं इस शख्स की कहानी
Rti की मदद से तलाक लेने का पहला मामला आया प्रकाश में, काफी अजीबों गरीब हैं इस शख्स की कहानी

जानकारी के अनुसार सुहागरात की रात दुल्हे ने दूल्हन के पेट पर टांके देख लिए थे। जिसके बाद दूल्हे को दूल्हन और उसके घरवालों पर शक हो गया था। शादी के कुछ दिनों बाद पंरम्परा के अनुसार दुल्हन को अपने घर भेज दिया गया पर शक के कारण पति उसे कभी लेने नहीं गया। जिसके बाद दूल्हन के घर वालों ने पति के खिलाफ दहेज प्रताड़ना का केस दर्ज करवा दिया। केस दर्ज होने के बाद पति ने खुद ही मामले की तह तक पहुंचने के लिए छानबीन शुरू कर दी।

शादी के पहली रात ही पति को अपनी पत्नी पर हो गया था शक

Rti की मदद से तलाक लेने का पहला मामला आया प्रकाश में, काफी अजीबों गरीब हैं इस शख्स की कहानी
Rti की मदद से तलाक लेने का पहला मामला आया प्रकाश में, काफी अजीबों गरीब हैं इस शख्स की कहानी

खबरों के अनुसार ये पूरा मामला शिवपूरी जिले के एक शख्स का हैं जो आज इंसाफ के लिए दर-दर भटक रहा हैं। उसकी शादी अपने गांव के पड़ोसी जिले के अशोकनगर की रहने वाली एक युवती से हुई थी। शादी की पहली रात ही उसे अपनी पत्नी के पेट पर टांके दिखाई दे गए। जिसके बाद उसे अपनी पत्नी पर शक हुआ और यहीं से उसने अपनी पत्नी के खिलाफ सबूत इकठ्ठा करने शुरू किए।

पति ने आईटीआई (RTI) की मदद से प्राप्त की जानकारी

Rti की मदद से तलाक लेने का पहला मामला आया प्रकाश में, काफी अजीबों गरीब हैं इस शख्स की कहानी

पति का अपनी पत्नी पर ये भी आरोप हैं कि शादी के दो दिन बाद ही पत्नी किसी दूसरे शख्स से फोन पर बात किया करती थी। धीरे-धीरे शक बढ़ने लगा तो छानबीन से पता लगा कि रिश्ता तय होने से पहले पत्नी एक प्राइवेट स्कूल में पढ़ाने जाया करती थी। इसी दौरान उसका उसी स्कूल के एक टीचर से प्रेम- प्रंसग चल गया था। शादी से पहले पत्नी का अशोकनगर के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में भी इलाज चल रहा था। पूरी छानबीन करने के बाद पति ने इंसाफ की मदद के लिए सूचना के अधिकार का दरवाजा खटखटाया था। आरटीआई के द्वारा जो जानकारी उसे प्राप्त हुई हैं वे उसे देख कर सन्न रह गया हैं। दरअसल RTI से पता चला हैं कि शादी से करीब तीन महीने पहले ही पत्नी गर्भवती थी और उसने अपना गर्भपात करवाया हैं। मेडिकल रिपोर्ट में यह भी खुलासा हुआ हैं कि शादी से पहले ही हॉस्पिटल में पति का नाम लिखवाया गया हैं।

पति ने कोर्ट में पेश किए पत्नी के खिलाफ सबूत

Rti की मदद से तलाक लेने का पहला मामला आया प्रकाश में, काफी अजीबों गरीब हैं इस शख्स की कहानी
Rti की मदद से तलाक लेने का पहला मामला आया प्रकाश में, काफी अजीबों गरीब हैं इस शख्स की कहानी

आईटीआई (RTI) द्वारा मिली इस जानकारी के जरिये पति ने अपने वकील के साथ मिल कर कोर्ट में अपने बेगुनाह होने के सबूत पेश किए हैं। साथ ही अपनी पत्नी और उसके घरवालों पर भ्रूण हत्या का आरोप भी लगाया हैं। साथ ही अपने ससुराल वालों पर कई बार अपने साथ मारपीट करने का आरोप लगाते हुए जल्द से जल्द अदालत से इंसाफ की मांग की हैं।