ऐसे लोगो को गलती से भी नहीं करना चाहिए नमस्कार, वरना रूठ जायेगी किस्मत

 

हमारी भारतीय संस्कृति में हमेशा बच्चों सिखाया जाता हैं कि अपने से बड़ों को हमेशा नमस्कार करना चाहिए। बड़ों के प्रति सम्मान प्रकट करना चाहिए और उनकी इज्जत करनी चाहिए। लेकिन हर समय नमस्कार करना उचित नहीं हैं। क्योंकि वास्तु के अनुसार कुछ ऐसी जगह या वक़्त पर नमस्कार करना हमारे बिगड़े भाग्य का आगमन करने के समान होता हैं। तो आइये हम बताते हैं आपको किस जगह पर नमस्कार नहीं करना चाहिए।

- ऐसे लोग जो दूसरों के साथ बुरा करते हैं, किसी भी रूप में दूसरों को हानि पहुंचाते हैं, कष्ट देते हैं, उन्हें नमस्कार कर सम्मान देना आपके लिए नुकसानदेह हो सकता है।

- जो किसी के अंतिम संस्कार से आ रहा हो या अंतिम संस्कार के लिए जा रहा हो, उसे अपवित्र माना जाता है। शास्त्रों और धर्मग्रंथों के अनुसार अपवित्र व्यक्ति को कभी नमस्कार नहीं करना चाहिए।

- स्नान कर रहे व्यक्ति को कभी भी नमस्कार नहीं करना चाहिए ये हमारे शिष्टाचार के विरुद्ध है। ऐसा करने से स्नान करने वाला व्यक्ति असहज हो सकता है।

- किसी काम में लिप्त व्यक्ति को कभी नमस्कार नहीं करना चाहिए। एक तो ये उस व्यक्ति के काम में खलल डालता है दूसरा उसे टोक लग जाती है, इसके चलते उसका काम सफल नहीं होता।

- मूर्ख, बुरे आचरण वाले या मानसिक रूप से कपटी लोगों को नमस्कार करना आपके सम्मान को तो ठेस पहुंचाता ही है, साथ ही ऐसा करने से आपका भाग्य भी प्रभावित होता है।

From around the web

>