इस मंदिर में पूजा करने पर, लड़के-लड़कियों को मिलता है मनचाहा ‘वर’

 

कहते है जो भी भक्त भोलेनाथ की सच्चे मन से पूजा करता है उसे भोलेनाथ कभी भी निराश नही करते है। ऐसा ही एक अचलेश्वर महादेव जी का ऐतिहासिक शिव मंदिर राजस्थान के धौलपुर के बीहड़ों में स्थित है। इस मंदिर में शिवलिंग दिन में 3 बार अपना रंग बदलता है। शिवलिंग का रंग दिन में लाल, दोपहर को केसरिया और रात को सांवला हो जाता है।
इस शिवलिंग के रंग बदलने के पीछे क्या वजह है इसका जवाब अब तक किसी वैज्ञानिक को नहीं मिल सका है। कई बार मंदिर में रिसर्च टीमें आकर जांच-पड़ताल कर चुकी हैं। फिर भी इस चमत्कारी शिवलिंग के रहस्य से पर्दा नहीं उठ सका है।

इस चमत्कारी शिवलिंग के बारे में मान्यता है कि जो भी कुंवारा लड़का या कुंवारी लड़की यहां शादी से पहले मन्नत मांगने आते हैं तो बहुत जल्दी उनकी मुराद पूरी हो जाती है। यहां शिवजी की कृपा से लड़कियों को मनचाहा वर भी मिल जाता है। यहां के लोग बताते हैं कि ऐसे लाखों लोग हैं जिनकी शादी नहीं हो रही थी, लेकिन मंदिर में शिवलिंग की पूजा करते ही उनकी शादी हो गई।

यह शिव मंदिर करीब हजार साल पुराना है। बीहड़ में मंदिर होने की वजह से डर के कारण पहले यहां बहुत कम लोग आते थे। अब हालात बदलने लगे हैं और दूर-दूर से लाखों की संख्या में भक्त यहां आने लगे हैं।

From around the web