जानिए किसी भी व्यक्ति को अपने वश में करने का सही तरीका

 

चाणक्य नीति ग्रंथ में जीवन को सुखमय बनाने के लिए कई तरह की नीतियां बताई गईं हैं। इस ग्रंथ में मानव समाज के प्रत्येक पहलुओं पर विस्तार से लिखा गया है। धर्म, संस्कृति, शिक्षा, राजनीति, न्याय और जीवन सिद्धान्तों के बारे में बताता हुआ ये ग्रंथ आज के समय में सभी की पसंद बना हुआ है। खासकर युवाओं के लिए चाणक्य की नीतियां सफलता हासिल करने में कारगर साबित हो सकती हैं। यहां हम जानेंगे कि चाणक्य ने किसी को वश में करने का क्या तरीका बताया है…

लालची: चाणक्य अनुसार किसी भी लालची मनुष्य को पैसे देकर ही वश में किया जा सकता है। क्योंकि उसको सिर्फ धन की ही चाहत होती है। लालच के प्रकार अलग हो सकते हैं। अत: अगर किसी व्यक्ति को किसी चीज का लालच है तो उसे उस चीज को देकर ही अपने वश में किया जा सकता है।

गुस्सैल: जिन लोगों को बात बात पर गुस्सा आता है। उन्हें कभी क्रोधित होकर वश में नहीं कर सकते। ऐसे लोगों से अपनी बात मनवाने का बस यही तरीका है कि आप उनकी किसी बात पर क्रोधित न हों।

मूर्ख: चाणक्य नीति कहती है कि मूर्ख इंसान को चाहे कितना ही समझा लिया जाए लेकिन वो अपनी मूर्खता के कारण किसी भी बात को नहीं समझ सकता। अत: आप ऐसे इंसान से तर्क वितर्क नहीं कर सकते। इन लोगों को अपने वश में करने के लिए बेहतर होगा कि आप इनकी प्रशंसा करें जिसे सुनकर इन्हें काफी सुख मिलता है और ये लोग आपके गुणगान गाने लगेंगे।

बुद्धिमान: ऐसे लोगों को वश में करना सबसे ज्यादा कठिन होता है। क्योंकि ये अपनी बुद्धि से हर चीज को समझ पाने में सक्षम होते हैं। ऐसे लोगों को अपने वश में करने का बस एक ही तरीका है कि उनके सामने हमेशा सच ही बोलें और उनके कहे अनुसार ही काम करें।

From around the web

>