चाणक्य के अनुसार ये 4 काम करने के बाद नहाना है जरूरी!

 
अर्थशास्त्र, राजनीति और कूटनीति के मर्मज्ञ ज्ञाता कौटिल्य जिन्हें पूरी दुनिया आचार्य चाणक्य के नाम से जानती है। आचार्य चाणक्य ने नहाने से संबंधित कई बातें बताई कि किस समय हमें नहाना चाहिए और किस समय नही। इसी तरह आचार्य ने बताया कि किस परिस्थियों में हमें जरुर नहाना चाहिए। आमतौर में तो हम रोज सुबह नहाते है, लेकिन आचार्य के अनुसार जब इन परिस्थियों में हो तो जरुर नहाएं। ऐसा न करने से हमारी सेहत में इसका असर पड़ सकता है, क्योंकि हमारे खान-पान के साथ-साथ दिनचर्या से ही हमारी सेहत में असर पडता है। जानिए इन स्थितियों के बारें में......

शरीर की तेल से मालिश के बाद जरुर नहाए- आचार्य चाणक्य ने बताया कि हमारें शरीर को तेल की अधिक मात्रा में जरुरत होती है, क्योकि इसी से हमारा शरीर चमकदार और सेहतमंद बनता है। इसलिए सप्ताह में एक दिन जरुर तेल से मालिश करनी चाहिए, लेकिन साथ में इस बात का ध्यान भी रखना चाहिए कि तेल मालिश के बाद तुरंत नहा ले। ऐसा करने से आपके शरीर की पूरी गंदगी बाहर निकल जाएगी जिससे आपकी त्वचा चमकदार और सेहतमंद हो जाएगी। बिना नहाए कभी भी घर से बाहर न निकले यह आपके लिए अशुभ होगा।

मृतक की अंतिम यात्रा से लौटकर जरुर करें स्नान - अगर किसी की मृत्यु हो गई है और आप उसकी शवयात्रा में जा रहे है तो वहां से वापस आकर तुरंत स्नान करना चाहिए। बिना स्नान करें घर के अंदर भी प्रवेश नही करना चाहिए। इसके पीछे का कारण आचार्य ने बताया कि जब आप श्मशान जाते है तो वहां पर अनेकों तरह के कीटाणु होते है जो आपके शरीर के साथ कही न कही चिपक कर चले आते है। इसलिए तुरंत आकर नहाना चाहिए जिससे वह कीटाणु आपके घर में न फैलें। साथ ही आपको कोई सेहत संबंधी समस्या न हो।

प्रेम प्रसंग के बाद नहाना जरुरी - महिला हो या पुरुष  दोनों में कोई भी हो। प्रेम प्रसंग के बाद नहाना जरूरी होता है। आचार्य के अनुसार प्रेम प्रसंग के बाद दोनों लोग अपवित्र हो जाते है जिससे वह किसी धार्मिक काम के योग्य नही हो सकते है न ही बाहर जा सकते है। इसलिए इस काम के बाद बिना नहाए कोई काम नही करना चाहिए।

अपने बाल कटवाने के बाद नहाना जरूरी - आचार्य चाणक्य ने बताया कि जब हम अपने बाल कटवाते है तो वह हमारे शरीर में छोटे-छोटे बाल चिपक जाते है जो बिना नहाए नही हट सकते है। इसलिए हमें नहाना जरुर चाहिए। जिससे हमें सेहत संबंधी कोई भी समस्या न हो। और बाल हमारें शरीर से हट जाएं।

From around the web

>