खनन विभाग के ओएसडी के ठिकानों पर विजिलेंस यूनिट की छापेमारी, एक जगह से मिले नगद 15 लाख

 

खनन एवं भूतत्व विज्ञान प्रौद्योगिकी मंत्री जनक राम के ओएसडी मृत्युंजय कुमार के अररिया स्थित पैतृक आवास पर शुक्रवार अहले सुबह निगरानी विशेष शाखा की टीम ने आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में छापेमारी की। बताया जाता है कि निगरानी विभाग में एडीएम रैंक के अधिकारी मृत्युंजय कुमार के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति होने का मामला दर्ज कराया गया है।

विशेष निगरानी शाखा के एएसपी सुधीर कुमार के नेतृत्व में डीएससी विपिन कुमार व इंस्पेक्टर अजय कुमार के साथ स्थानीय थाना पुलिस ने अररिया के रहिका टोला स्थित मृत्युंजय कुमार के आवास पर सघन छापेमारी की। छापामारी के बाद एएसपी सुधीर कुमार ने बताया कि चूंकि यह मृत्युंजय कुमार का पैतृक आवास है। यहां पर निगरानी टीम को कुछ हाथ नहीं लगा। उन्होंने बताया कि निगरानी विभाग के ओएसडी के अररिया आवास सहित कटिहार व पटना के दो ठिकानों पर एक साथ छापेमारी चल रही है। उन्होंने बताया कि विशेष निगरानी टीम को कटिहार व पटना में बड़ी सफलता मिली है।

विशेष निगरानी इकाई ने खनन विभाग के ओएसडी मृत्युंजय कुमार और धनंजय कुमार के साथ एक महिला रत्ना चटर्जी के खिलाफ 25 नवंबर को विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया है। इसके बाद 26 तारीख को कोर्ट से सर्च वारंट लेने के बाद टीम शुक्रवार सुबह से छापेमारी कर रही है। कटिहार स्थित महिला रत्ना चटर्जी के ठिकानों पर छापेमारी में अब तक 15 लाख रुपए बरामद हो चुके हैं। चटर्जी ओएसडी की महिला मित्र बताई जा रही हैं।

From around the web