योगी मंत्रिमंडल विस्तार जल्द, सात नये चेहरे हो सकते हैं शामिल, ऐसा रहेगा जातीय समीकरण

 

देश की मोदी सरकार के बाद अब उत्तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Govt Cabinet Expansion) भी अब अपने मंत्रिमंडल का विस्तार करने जा रही है। आगामी चुनावों को देखते हुए हाल ही बीजेपी और संघ के साथ हुई बैठक में यूपी मंत्रिमंडल विस्तार पर चर्चा की गई जिसमें मंत्रिमंडल विस्तार को हरी झंडी मिल गई है। साथ में मंत्रिमंडल में जिन नए नेताओं को जगह मिलेगी उन सब पर भी सहमति बन चुकी है।

मंत्रिमंडल के विस्तार (Cabinet Expansion in UP) को लेकर बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और संगठन महामंत्री सुनील बंसल बीजेपी आलाकमानों के पास दिल्ली पहुंच गए हैं। जहां बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष और गृहमंत्री अमित शाह के साथ चर्चा पूरी होने पर फैसला लिया जाना है।

UP Cabinet Expansion : पांच से सात नए चेहरों को मिल सकता है मौका
सूत्रों की माने तो इसी महीने होने वाले विस्तार की तारीख सीएम योगी आदित्यनाथ से चर्चा के बाद घोषित कर दी जाएगी। योगी मंत्रिमंडल में 5 से 7 नए चेहरे शामिल होंगे।

किसी भी मंत्री की नहीं होगी छुट्टी!
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, संघ के साथ बीजेपी की हुई बैठक में आगामी चुनावों को देखते हुए मौजूदा कैबिनेट से किसी को भी नहीं हटाने पर भी फैसला लिया गया है।

दलित, पिछड़ा वर्ग और ब्राह्मणों को मिल सकता है मौका
योगी मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर जिन नए चेहरों के नामों की सूची तैयार की गई है उसमें बीजेपी ने जातीय गणित पर विशेष ध्यान दिया है। कैबिनेट में क्षेत्रीय और जातीय संतुलन बना रहे इसके लिए कैबिनेट में दलित, पिछड़ा वर्ग के साथ ब्राह्मणों को भी प्रतिनिधित्व मिलने के आसार दिखाई दे रहे हैं।

From around the web

>