ट्रेन की चपेट में आने से तीन लोगों की मौत, परिजनों की जताई हत्या की आशंका

 

उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जनपद के सदर कोतवाली अंतर्गत मन्दाकिनी नदी पर कर्वी-कपसेठी गांव को जोड़ने वाले रेलवे पुल को पार करते समय भैरोपागा के पास ट्रेन की चपेट में आने से तीन लोगों की मौत हो गई। दो लोगों के शव गुरुवार रात ही मिल गए थे, जबकि एक व्यक्ति की लाश मन्दाकिनी नदी से मिली। तीनों लोग एक पार्टी के बाद लौट रहे थे। उसी दौरान पुल पार करते समय कोई ट्रेन आ गई, जिससे कटकर तीनों की मौत हो गई।

मिली जानकारी के मुताबिक जिले की कर्वी कोतवाली अंतर्गत कपसेठी गांव के मजरा टिकुरा निवासी राम सिंह निषाद (48) पुत्र रामदास अपने साथी नत्थू उर्फ संतोष साहू (35) पुत्र कल्लू और चंदू (38) पुत्र अज्ञात निवासी शंकर बाजार कोतवाली कर्वी के साथ कपसेठी गांव के मजरा टिकुरा में दारू -मुर्गा की पार्टी करने गये थे। गुरुवार देर शाम पार्टी के बाद राम सिंह निषाद अपने दोनों साथियों को छोड़ने के लिए मन्दाकिनी नदी पर बने रेलवे पुल को पार कर रहे थे। उसी दौरान ट्रेन की चपेट में आने से तीनों की मौत हो गई। नत्थू और चंदू का शव पुलिस ने गुरुवार रात ही बरामद कर लिया था।

राम सिंह निषाद का शव शुक्रवार की सुबह मन्दाकिनी नदी के भैरो पागा स्थित सुंदरघाट में उतराते हुए मिला। घटना की जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंचे सदर कोतवाल वीरेंद्र त्रिपाठी ने शवों का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी भिजवाया और घटना की जांच शुरू की। एसपी धवल जायसवाल और कोतवाल का कहना है कि ट्रेन की चपेट में आने से तीनों की मौत हुई है। इसके बावजूद सभी बिन्दुओ को गंभीरता से लेते हुए प्रकरण की जांच की जा रही है। वहीं मृतक राम सिंह की पत्नी बुधिया ने पति की हत्या का अंदेशा जताया है।

From around the web