BJP के बाद सपा में इस्तीफे शुरू, समाजवादी पार्टी के इस दिग्गज नेता ने दिया इस्तीफा

 

यूपी में विधानसभा चुनाव से पहले राजनेताओं का दलबदल अभियान जारी है। BJP के बाद अब समाजवादी पार्टी में इस्तीफे शुरू हो गए हैं। सपा एमएलसी घनश्याम सिंह लोधी ने शुक्रवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने पार्टी पर दलित और पिछड़ों की उपेक्षा का आरोप लगाया है। हलांकि वह किस पार्टी में जा रहे हैं, उन्होंने अभी पत्ते नहीं खोले हैं। घनश्याम लोधी ने अपने इस्तीफा पत्र में लिखा कि समाजवादी पार्टी की पिछड़ा और दलित समाज की उपेक्षा के कारण वे सपा से इस्तीफा दे रहे हैं। सपा में पिछड़ों और दलित समाज को उचित सम्मान न मिलने से वे दुखी हैं। हालांकि उन्होंने अपना अगला कदम नहीं बताया है।

दूसरी ओर, योगी आदित्यनाथ सरकार में मंत्री रहे स्वामी प्रसाद मौर्य, धर्म सिंह सैनी समेत भाजपा (BJP) छोड़कर आए कई विधायकों ने शुक्रवार को सपा की सदस्यता ग्रहण की है। अखिलेश यादव ने इन्हें लखनऊ स्थित सपा दफ्तर में पार्टी की सदस्यता दिलाई। स्वामी प्रसाद मौर्य बड़े ओबीसी नेता माने जाते हैं। उन्होंने भाजपा पर दलितों और पिछड़ों पर उपेक्षा के आरोप लगाए थे।

उल्लेखनीय है कि, स्वामी प्रसाद मौर्य, दारा सिंह चौहान, सहित जिन 11 विधायकों ने भाजपा को छोड़ा है उन्होंने अपने इस्तीफे में योगी सरकार में पिछड़े, दलितों का सम्मान नहीं करने का आरोप लगाते हुए पार्टी छोड़ी थी। इसी तरह रामपुर जिले के कांग्रेस नेता यूसुफ अली ने भी शुक्रवार को सपा का दामन थामा। कांग्रेस ने एक दिन पहले ही उन्हें चमरौआ विधानसभा सीट से प्रत्याशी बनाया था।

From around the web