अब कौन होगा बीएसपी का नेता विधानमंडल दल? 15 विधायक जीते थे, नौ ने छोड़ दिया साथ

 

यूपी में विधानसभा चुनाव से पहले ही बसपा के विधायक घटते जा रहे हैं। बसपा के कई विधायकों ने एक-एक अपनी नेत्री और पूूर्व मुख्‍यमंत्री मायावती का साथ छोड़ दिया तो कुछ को खुद पार्टी बाहर कर चुकी है। विधायकों के पार्टी छोड़ने का सिलसिला जारी है। अब तक असलम अली चौधरी, मो. मुजतबा सिद्दीकी, मो. असलम राइनी , सुषमा पटेल, डा. हरगोविंद भार्गव और हाकिम लाल बिंद ने बसपा को छोड़ कर सपा का दामन थाम लिया है। वंदना सिंह ने बसपा छोड़ चुकी हैं। अब गुड्डू जमाली ने पार्टी छोड़ दी है। पहले लालजी वर्मा और रामअचल राजभर ने निष्कासन के बाद सपाई हो गए। मुख्तार अंसारी को मायावती ने टिकट देने से मना कर दिया है।

कौन होगा नेता
बसपा अब किसे नेता विधानमंडल बनाती है यह देखने वाली बात होगी। बसपा के पास उसकी सूची के मुताबिक तो 15 विधायक हैं, लेकिन इसमें से नौ विधायक अब उसके पास नहीं हैं।

‘आप मेरी निष्ठा से संतुष्ट नहीं’
गुड्डू जमाली ने बसपा प्रमुख को पत्र में लिखा कि मुझे जो भी जिम्मेदारियां मिली उसे निष्ठा से निभाया। भारी मन से कहना पड़ रहा है कि आपके साथ 21 नवंबर को हुई मीटिंग में महसूस किया कि आप निष्ठा-ईमानदारी पर भी संतुष्ट नहीं हैं। कई दिन विचार के बाद मुझे लगा कि मैं पार्टी पर बोझ हूं, ऐसी सूरत में इस्तीफा दे देना ही बेहतर है।

From around the web