चंबल के कुख्यात बदमाश आगरा पुलिस के साथ मुठभेड़ ढेर, मांगी ने डॉक्टर से 5 करोड़ की फिरौती

 

आगरा पुलिस की बुधवार देर रात जगनेर के कछपुरा गांव में चंबल के कुख्यात बदन सिंह गिरोह से मुठभेड़ हो गई जिसमें एक लाख रुपए का इनामी बदमाश बदन सिंह और उसका एक साथी मारा गया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मुनिराज ने बताया कि बुधवार देर रात जगनेर थाने के प्रभारी निरीक्षक और उनकी टीम गश्त कर रही थी तभी पुलिस ने एक मोटरसाइकिल को रुकने का इशारा किया लेकिन वह नहीं रुकी।

उन्होंने बताया कि इसके बाद पीछा करने पर बदमाशों ने मोटरसाइकिल जंगल की ओर मोड़ दी और गोलीबारी शुरू कर दी। इसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गयी जिसमें बदन सिंह और उसका साथी घायल हो गया। उन्होंने बताया कि दोनों को एसएमसी अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। मुठभेड़ के दौरान आगरा के एसएसपी और अन्य अधिकारी की बुलेट प्रूफ जैकेट में गोली लगी।

गौरतलब है कि हाल में बदन सिंह गिरोह ने आगरा के वरिष्ठ सर्जन उमाकांत गुप्ता का अपहरण किया था और पांच करोड़ रुपये की फिरौती मांगी थी। हालांकि आगरा पुलिस ने धौलपुर पुलिस की मदद से डॉ. गुप्ता को छुड़ा लिया था। पुलिस ने बदन सिंह पर एक लाख रुपये और उसके चार साथियों पर 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था।

एडीजी जोन राजीव कृष्ण ने बदन सिंह पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित किया था। बदन सिंह को पकड़ने के लिए पुलिस की एक टीम धौलपुर में ही डेरा डाले हुए थी। बीहड़ में पुलिस बदन सिंह की तलाश कर चुकी थी। मगर, वह हाथ नहीं आ रहा था। मौसम खराब होने की वजह से पुलिस के लिए बीहड़ में जाना मुश्किल हो रहा था लेकिन कछपुरा क्षेत्र में मुठभेड़ में वह मारा गया।

From around the web

>