बहु पर थी बीएसएफ जवान की बुरी नजर, बेटों ने उठाया खौफनाक कदम

 

यूपी के बुलंदशहर जिले में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के एक जवान का क्षत-विक्षत शव उसके घर के पास एक कुएं से बरामद किया गया। जवान करीब सात महीने पहले लापता हो गया था। बुलंदशहर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) संतोष सिंह ने कहा कि कई लोगों से पूछताछ करने के बाद, हमने उसके फोन को ट्रैक करना शुरू कर दिया। अजीब बात यह थी कि उसके लापता होने की रात (30 मार्च) रामपाल का अंतिम स्थान उसका घर था। यहां तक कि उनके बेटे का फोन लोकेशन भी घर पर था जबकि उसने हमें बताया था कि उसने अपने पिता को हापुड़ छोड़ दिया था। इससे उसके बयानों पर संदेह पैदा हुआ और जब पूछताछ की गई तो बेटे ने जुर्म कबूल कर लिया।

57 वर्षीय रामपाल सिंह इसी साल 29 मार्च को घर आए थे। राजस्थान के जैसलमेर में ड्यूटी ज्वाइन करने से पहले उन्होंने अपने परिवार के सदस्यों से मिलने के लिए छुट्टी ली थी। लेकिन इसके बाद वह कभी अपनी ड्यूटी पर वापस नहीं लौटे। मृतक के भाई जितेंद्र सिंह ने अपने भाई की गुमशुदगी की शिकायत बुलंदशहर के औगाटा पुलिस थाने में दर्ज कराई। उन्होंने संदेह व्यक्त किया था कि उनके लापता होने में उनके बेटे शामिल हो सकते हैं।

एसएसपी ने कहा कि उनके बेटों ने भी 29 मई को अपने पिता के लापता होने की पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। तब से हम मामले की जांच कर रहे हैं। बेटे ने पूछताछ के दौरान बताया कि उसने और उसके भाई ने कथित तौर पर उनके पिता की हत्या कर शव को कुएं में फेंक दिया था। उन्हें शक था कि पिता जी की अपनी बड़ी बहू पर बुरी नजर थी। जिसके बाद पुलिस ने छोटे बेटे और उसके दोस्त को गिरफ्तार कर लिया गया है।

From around the web