भदोही में कार्यकर्ताओं को नजर अंदाज करना भाजपा को पड़ा भारी

 

उत्तर प्रदेश की कालीन नगरी भदोही में गांव की सरकार बनाने पंचायत चुनाव में उतरी सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को करारी शिकस्त का करना पड़ा है।
नाम न सामने लाने की शर्त पर भदोही जिले के भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने यूनीवार्ता को बताया कि छोटे-मझोले कार्यकर्ताओं व नेताओं को नजर अंदाज करना पार्टी को भारी पड़ गया।

यही वजह रही कि अब तक भदोही जिले के नगर निकाय से लेकर हर छोटा-बड़ा चुनाव अपने पाले में करने वाली भाजपा पंचायत चुनाव में भदोही जिले में कहीं तीसरे तो कहीं पांचवे स्थान पर रही।

उन्होने कहा कि भदोही जिले के 26 वार्डों में जिला पंचायत के अधिकतर ऐसे लोगों को जिला संगठन ने प्रत्याशी बनाया जिसका पार्टी से दूर-दूर तक कोई नाता नहीं था और पार्टी का झंडा-डंडा उठाने वालों का भदोही जिला संगठन ने उपेक्षा की।

यही वजह है कि सूबे के सबसे छोटे जिले भदोही में सत्तासीन दल को पंचायत चुनाव में करारी शिकस्त का मुंह देखना पड़ा।

From around the web

>