चिकित्सकों, स्वास्थ्यकर्मियों को मिलेगा अतिरिक्त मानदेय

 

उत्तर प्रदेश सरकार ने कोविड से संबंधित कार्यों में संलग्न स्वास्थ्यकर्मियों, चिकित्सकों, पैरामेडिकल स्टाफ, हाउसकीपिंग स्टाफ, स्वच्छता कर्मी, आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को प्रोत्साहन स्वरूप अतिरिक्त मानदेय प्रदान करने का फैसला किया है जबकि राज्य में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर कोरोना कर्फ्यू की मियाद छह मई सुबह सात बजे तक कर दी गयी है।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को टीम-09 के साथ कोरोना की समीक्षा बैठक में कहा कि कोविड से संबंधित कार्यों में संलग्न स्वास्थ्यकर्मियों, चिकित्सकों, पैरामेडिकल स्टाफ, हाउसकीपिंग स्टाफ, स्वच्छता कर्मी, आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को सरकार प्रोत्साहन स्वरूप अतिरिक्त मानदेय प्रदान करेगी।

अस्पतालों में सेवारत चिकित्सकों, नर्सिंग स्टाफ को कोविड सेवा के दिवसों के लिए वर्तमान वेतन/मानदेय का 25 फीसदी अतिरिक्त देय होगा।

इसी प्रकार अन्य कोरोना वॉरियर्स के लिए भी अतिरिक्त मानदेय प्रदान किया जाएगा।

यह अतिरिक्त मानदेय ड्यूटी के उपरांत इनके आइसोलेशन अवधि के लिए भी दिया जाएगा।

श्री योगी ने कहा कि मेडिकल/नर्सिंग अंतिम वर्ष के छात्र-छात्राओं की सेवाएं भी कोविड सेवा कार्य में ली जाएंगी, सेवानिवृत्त स्वास्थ्य कर्मियों, अनुभवी चिकित्सकों, एक्स सर्विस मैन के अनुभवों का भी लाभ लिया जाए, उन्हें भी कोविड कार्य से जोड़ा जाए।

सभी को नियमानुसार मानदेय प्रदान किया जाएगा।

इस संबंध में यथाशीघ्र आदेश जारी कर दिया जाए।

उन्होने कहा कि कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए सरकार आवश्यक कदम उठा रही है।

पिछले शुक्रवार यानी 30 अप्रैल रात्रि 08 बजे से मंगलवार चार मई सुबह सात बजे तक प्रदेशव्यापी साप्ताहिक बंदी प्रभावी है, इसे दो दिन और विस्तार दिया जा रहा है।

अब प्रदेश में 06 मई प्रातः 07 बजे तक आंशिक कोरोना कर्फ्यू प्रभावी रहेगा।

इस अवधि में आवश्यक और अनिवार्य सेवाएं सतत जारी रहेगी।

दवा, सब्जी की दुकानें, औद्योगिक इकाइयां आदि सतत संचालित होंगी।

कहीं भी अनावश्यक भीड़ न लगे।

श्री योगी ने कहा कि कोविड का वर्तमान स्ट्रेन लगातार रूप बदल रहा है।

यह पहली लहर की तुलना में 30 से 50 गुना अधिक संक्रामक है।

कुछ केस में देखा गया है कि कोविड टेस्ट में भी इसकी पुष्टि नहीं हो रही है, जबकि सी टी स्कैन में पता लग रहा कि लंग्स कोविड से प्रभावित है।

ऐसे में हमें और सतर्कता के साथ काम करने की जरूरत है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड पर प्रभावी नियंत्रण और आवश्यक रणनीति के लिए राज्य स्तर पर स्वास्थ्य विशेषज्ञों का एक सलाहकार पैनल तैयार किया जाए।

यह पैनल राज्य स्तरीय टीम-09 को समय-समय पर आवश्यक परामर्श देगी।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों का परामर्श रणनीति तैयार करने में उपयोगी होगा।

पिछले 24 घंटों में प्रदेश में 29,192 नए कोविड केस की पुष्टि हुई है, जबकि इसी अवधि में 38,687 लोग स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए हैं।

प्रदेश में अब तक 10,43,134 लोगों ने कोविड को हराकर आरोग्यता प्राप्त की है।

यह स्थिति संतोषप्रद है।

प्रदेश में नए कोविड केस कम हो रहे हैं, जबकि रिकवरी दर बेहतर हो रही है।

From around the web

>