कोविड-19 टीकाकरण की धीमी गति पर नागरिकों का केन्द्र पर हंगामा

 
कोविड-19 टीकाकरण की धीमी गति पर नागरिकों का केन्द्र पर हंगामा  कोविड-19 टीकाकरण की चल रही धीमा प्रक्रिया से नाराज 45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों ने शुक्रवार दोपहर मुंगेर सदर अस्पताल के कोविड-19 टीकाकरण केन्द्र पर जमकर हंगामा किया। हंगामे के दौरान लोगों ने सुरक्षा गार्ड और डाटा ऑपरेटरों के साथ धक्का-मुक्की भी की। 
 

 कोविड-19 टीकाकरण की चल रही धीमा प्रक्रिया से नाराज 45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों ने शुक्रवार दोपहर मुंगेर सदर अस्पताल के कोविड-19 टीकाकरण केन्द्र पर जमकर हंगामा किया। हंगामे के दौरान लोगों ने सुरक्षा गार्ड और डाटा ऑपरेटरों के साथ धक्का-मुक्की भी की। 

भीड़ की उग्रता को देखकर डाटा-ऑपरेटर टीकाकरण केन्द्र छोड़कर अपनी जान बचाने बाहर निकल गए। घटना की सूचना मिलने पर सिविल सर्जन डॉ हरेन्द्र कुमार आलोक, सदर अस्पताल के उपाधीक्षक डॉ.रामप्रीत सिंह और  केन्द्र पर पहुंचे और उग्र नागरिकों को समझा-बुझाकर शांत कराया। उग्र भीड़ के शांत होने के बाद पुनः कोविड-19 टीकाकरण शुरू हुआ। सिविल सर्जन डॉ. हरेन्द्र कुमार आलोक ने कहा कि 45 प्लस के नागरिक टीकाकरण के लिए काफी संख्या में आ रहे हैं,और हर नागरिक सबसे पहले टीका लेना चाह रहे हैं। ‘‘पहले हम ,पहले हम‘‘ की सोच के कारण आज की यह घटना घटी है। 

इस बीच घटना की सूचना पर मुंगेर के पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लों ने सदर अस्पताल के कोविड-19 टीकाकरण केन्द्र पर चार राइफलधारी पुलिस को पदस्थापित कर दिया है।

From around the web

>