सिद्धू के नेतृत्व में सभी विधायक और नेता चंडीगढ़ में जुटेंगे, हाईकमान के निर्देश

 

कांग्रेस हाईकमान ने पंजाब के सभी विधायकों को नवजोत सिंह सिद्धू के नेतृत्व में एकजुट होने को कहा है। पेगासस जासूसी मामले में कांग्रेस देश भर में कल 22 जुलाई को रोष प्रदर्शन कार्यक्रम करने जा रही है। पंजाब कांग्रेस को भेजे एक पत्र में कांग्रेस हाईकमान ने सभी कांग्रेसी नेताओं और विधायकों को सिद्धू की अगुवाई में लामबंद होने के लिए कहा है।

पंजाब के कांग्रेस विधायक और नेता अभी भी दुविधा में हैं कि वे नवजोत सिद्धू का साथ दें अथवा मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का। दोनों बड़े नेताओं के बीच अभी भी शक्ति प्रदर्शन चल रहा है। गत रात्रि को मुख्यमंत्री ने एक ट्वीट के मार्फत कहा था कि जब तक नवजोत सिद्धू उनसे माफी नहीं मांगते, वह नवजोत सिद्धू के साथ कोई मुलाकात या बैठक नहीं करेंगे ।

ऐसे में कांग्रेस खेमें में यह प्रश्न उठ रहा है कि क्या मुख्यमंत्री पार्टी हाईकमान के निर्देशों की अवहेलना करेंगे अथवा उन्हें मानेंगे। आज भी नवजोत सिंह सिद्धू अमृतसर पहुंचे हुए हैं, जहां पर उन्होंने विभिन्न स्थानों पर जाकर दर्शन किए। ऐसा दावा है कि कांग्रेस के 62 विधायक उनके साथ अथवा उनसे मिलने पहुंचे हैं।

From around the web

>