पढ़ाई के साथ-साथ परिवार की जिम्मेदारी निभायेगी स्वीटी

 
अब  कु. स्वीटी जायसवाल पढ़ाई के साथ-साथ परिवार की जिम्मेदारी भी निभायेगी। उसे पिता की जगह शिक्षा विभाग में सहायक ग्रेड 3 के पद पर अनुकम्पा नियुक्ति मिल गई है। यह अवसर उसे शासन द्वारा अनुकम्पा नियुक्ति हेतु 10 प्रतिशत के सीमा बंधन को 31 मई 2022 तक शिथिल करने के कारण प्राप्त हो सका है।
जिले के रतनपुर निवासी कु. स्वीटी के पिता प्रवीण जायसवाल कोटा विकासखंड के ग्राम खैरवार के शासकीय स्कूल में प्रधानपाठक के पद पर कार्यरत थे। विगत 27 मार्च 2020 को लीवर सिरोसिस से उनकी मृत्यु हो गई थी। पिता की मृत्यु के बाद माह मई 2020 में कु. स्वीटी ने विकासखंड शिक्षा अधिकारी के कार्यालय में आवेदन दिया था किन्तु अनुकम्पा के कोटे में तृतीय श्रेणी का कोई पद रिक्त नहीं था। इसलिये उसका आवेदन लम्बित था। मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल की पहल पर शासन द्वारा अनुकम्पा नियुक्ति के कोटे से 10 प्रतिशत की सीमा को शिथिल किये जाने के बाद उसे 2 जून 2021 को नियुक्ति पत्र प्राप्त हो गया। उसे शासकीय हाईस्कूल कर्रा में पदस्थ किया गया है, जो उसके घर से 8 किलोमीटर दूर है। 
एम ए फाइऩल में अध्ययनरत 22 वर्षीय कु. स्वीटी इस बात से संतुष्ट है कि वह अब अपनी मां और छोटी बहन की अच्छी तरह देखभाल कर सकेगी। इस नियुक्ति से उसका परिवार आर्थिक संकट की चिंता से मुक्त हुआ है। स्वीटी ने कहा कि वे मुख्यमंत्री को धन्यवाद देती हैं कि कोरोना काल में लिये गये उनके संवेदनशील फैसले से उसे शासकीय नियुक्ति मिल पाई।

From around the web

>