स्वतंत्रता दिवस के आसपास ड्रोन हमलों की चेतावनी को लेकर सतर्क रहें सुरक्षा एजेंसियां : डीजीपी

 

पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिलबाग सिंह ने स्वतंत्रता दिवस से पूर्व जम्मू संभाग में सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने के लिए सभी सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारियों के साथ आयोजित एक बैठक में पुलिस व अन्य सभी सुरक्षा एजेंसियों को स्वतंत्रता दिवस के आसपास आतंकियों द्वारा ड्रोन हमले की चेतावनी को लेकर सतर्क रहने का निर्देश दिए। उन्होंने सीमांत क्षेत्रों पर पुलिस पोस्ट और नाकों को मजबूत करने के साथ अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा पर घुसपैठ के सभी प्रयासों को विफल करने के लिए सीमांत क्षेत्रों पर तैनात जवानों को 24 घंटे सतर्क रहने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अशांति फैलाने वाली किसी भी ताकत को पनपने नहीं दिया जाएगा।

पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने कहा कि आतंकी अपने नापाक इरादों से बाज नहीं आ रहे, लेकिन सुरक्षाबल उनकी हर नापाक हरकत को विफल करने में सक्षम हैं। उन्होंने कहा कि हाल ही में जम्मू में हथियार और आईईडी के साथ आतंकियों को पकड़ा गया है। जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग में सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेते हुए उन्होंने कहा कि राजमार्ग पर नाकों की संख्या को बढ़ाने की जरूरत है। इसके अलावा उन्होंने पुलिस अधिकारियों को नारको टेररिज्म के खतरे से निपटने के लिए रणनीति के तहत काम करने के लिए कहा।

बैठक में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जम्मू जोन के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक मुकेश सिंह, आईजीपी सीआरपीएफ पद्माकर, आईजी बीएसएफ एनएस जम्वाल, सेना की 16 कोर के ब्रिगेडियर अरविंद चौहान, जम्मू कठुआ सांबा रेंज के डीआईजी अतुल गोयल, सेना की 26 इन्फेंट्री डिविजन के कर्नल जीएस विजय दलाल, एसएसपी जम्मू चंदन कोहली मौजूद रहे। इसके अलावा आमर्ड बटालियन के कई कमांडेंट ने बैठक में भाग लिया।

From around the web

>