प्रदेश में पांच दिन पहले मानसून का आगाज, इन जिलों में रेड अलर्ट जारी

 

मौसम के पूर्वानुमानों से पांच दिन पूर्व ही मध्य प्रदेश में मानसून का आगाज हो गया। मौसम विभाग ने 15-16 जून तक जिलों में मानसून की बारिश का अनुमान लगाया था, लेकिन गुरुवार को जिला मुख्यालय बैतूल सहित अन्य क्षेत्रों में बिजली की चमक-बादलों की गरज के साथ मानसून की झमाझम बारिश हुई।

मौसम केंद्र भोपाल द्वारा जारी मानसून बुलेटिन में आगामी 72 घंटों में बैतूल जिले में भारी बारिश होने का रेड अलर्ट जारी किया है जिससे 11 से 14 जून के दौरान जिले में झमाझम बारिश होने का अनुमान है।

बैतूल में मूसलाधार बारिश

दिन भर जिला मुख्यालय बैतूल में सूरज और बादलों की लुकाछिपी चलती रही। सायं करीब 6 बजे अचानक काले घने बादलों ने आसमान पर डेरा जमा लिया और कुछ देर बाद बिजली की चमक और बादलों की गरज के साथ झमाझम बारिश शुरू हो गई। लगभग एक घंटे हुई तेज बारिश ने समूचे शहर को तरबतर कर दिया। जिले के अन्य इलाकों में भी तेज और धीमी बारिश होने की खबर है। जिला मुख्यालय सहित अन्य क्षेत्रों में बारिश का सिलसिला जारी है।

भारी बारिश की चेतावनी

मौसम केंद्र भोपाल द्वारा 10 जून को जारी मौसम बुलेटिन में बैतूल सहित अन्य जिलों में आगामी 72 घंटों में भारी बारिश की चेतावनी देकर रेड अलर्ट जारी किया है। मौसम बुलेटिन के मुताबिक इस दौरान रीवा, सतना, बैतूल, हरदा, खण्डवा, बुरहानपुर सहित जबलपुर व शहडोल संभाग के जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश के साथ बिजली गिरने एवं तेज हवाएं चलने की संभावना जताई है।

मृग नक्षत्र में हो सकती है बोवनी

तय समय के पूर्व जिले में मानसून के आगाज से मृग नक्षत्र में खरीफ सीजन फसलों की बोवनी होने की संभावना जताई जा रही है। यदि आगामी दिनों में जिले में अच्छी बारिश होती है तो मृग नक्षत्र में बोवनी शुरू हो जाएगी। कृषि वैज्ञानिकों ने किसानों को सलाह दी है कि औसत 4 से 5 इंच बारिश होने या जमीन में 6 इंच तक नमी होने के बाद ही बोवनी करें।

From around the web

>