महिला पर गोली चलाने वाले सब इंस्पेक्टर का रहस्यमय परिस्थितियों में मिला शव

 

 राजधानी लखनऊ के गोमती नगर एक्सटेंशन स्थित अपने घर में 40 वर्षीय एक सब-इंस्पेक्टर रहस्यमय परिस्थितियों में शव मिलने से हड़कंप मच गया। मृतक की पहचान जौनपुर के धर्मेंद्र यादव के रूप में हुई है, जो गोमती नगर विस्तार थाना क्षेत्र में अपने घर पर रह रहा था। वह इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की सुरक्षा में तैनात था।अभी तक उनकी मौत की वजह साफ नहीं है। संबंधित थाने की पुलिस ने लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।

निलंबित चल रहा था सब-इंस्पेक्टर

बता दें कि सब इंस्पेक्टर धर्मेंद्र यादव पर एक महिला पर गोली चलाने का आरोप लगाया गया था जिसके बाद उन्हें 20 अप्रैल को निलंबित कर दिया गया था। वह लगभग एक महीने तक जेल में बंद रहे। गोमती नगर विस्तार स्टेशन हाउस ऑफिसर (एसएचओ) राजेश द्विवेदी ने कहा कि यादव सोमवार को अपने घर में एक बेड पर बेसुध पड़े मिले। परिजन उसे अस्पताल ले गए जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।

गुस्से में आकर एक महिला पर चलाई थी गोली

द्विवेदी ने कहा, “20 अप्रैल को गुस्से में आकर एक महिला पर गोली चलाने का आरोप लगने के बाद वह डिप्रेशन में चला गया था।”पुलिस अधिकारियों ने कहा कि मृतक के बेड के पास अवसाद के इलाज के लिए निर्धारित गोलियों की एक बोतल मिली थी। कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है और परिवार के सदस्य उन परिस्थितियों के बारे में चुप्पी साधे हुए हैं जिनके कारण यह घटना हुई।

From around the web