आवास विकास में रक्षक ही बने भक्षक, जानें पूरा मामला

 

आवास एवं विकास परिषद में रक्षक की भक्षक बन गए हैं। जिन पर योजनाओं के रख-रखाव और सुरक्षा की जिम्मेदारी है, वही परिषद की जमीनों पर अवैध कब्जा कर रहे हैं। ​आवास विकास की वृंदावन योजना में वर्कचार्ज के पद पर तैनात एक कर्मचारी ने ही परिषद की जमीन पर बाउंड्रीवाल बनाकर अवैध कब्जा कर लिया है। इस बात की जानकारी मिलने पर परिषद के अभियंता अब नोटिस देने की तैयारी कर रहे हैं।

आवास विकास की योजनाओं में खाली जमीनों पर अवैध कब्जों की भरमार है। वृंदावन योजना के सेक्टर एक से लेकर सेक्टर चार में परिषद की बेशकीमती जमीनों पर जिम्मेदार अधिकारियों के सामने अवैध कब्जे होते जा रहे हैं। तेलीबाग से लेकर पीजीआई तक परिषद की रायबरेली रोड से लगी हुई जमीनों पर शोरूम और सोसायटी बनाकर लोगों ने अवैध कब्जा कर लिया है। जबकि यह जमीन परिषद द्वारा अधिग्रहित है। सरदार पटेल डेंटल हॉस्टिपल के पीछे सेक्टर टू ए में स्थित सामुदायिक केंद्र के बगल में परिषद की करोड़ों की जमीन खाली पड़ी है।

यह जमीन शहीद पथ के पास है। यहां कुछ लोगों ने परिषद की अधिग्रहित जमीन पर मकान बना लिए हैं। परिषद के निर्माण खंड लखनऊ पांच में वर्कचार्ज के पद पर तैनात कर्मचारी ने पहले परिषद की जमीन पर अवैध कब्जा कर मकान बना लिया था अब उसने बगल में परिषद की खाली पड़ी जमीन को भी बाउंड्री बनाकर घेर लिया है। योजना का कार्य देख रहे निर्माण खंड लखनऊ एक के अभियंताओं को जब इस बात की जानकारी हुई तो जेई ने मौके का निरीक्षण कर अवैध निर्माण सही पाया। सहायक अभियंता ने अब अवैध निर्माणकर्ता को नोटिस जारी कर अवैध निर्माण ध्वस्त करने की बात कही है।

From around the web