आक्सीजन की आपूर्ति की मांग लेकर विधायक धरने पर बैठे

 

 राजस्थान में अलवर जिले निजी अस्पतालों में कोरोना पीड़ितों को ऑक्सीजन की आपूर्ति को लेकर आज अलवर शहर विधायक संजय शर्मा जिला कलेक्टर चेम्बर में धरने पर बैठ गए।
श्री शर्मा ने चेतावनी दी कि जब तक अलवर को उसके हिस्से की पर्याप्त ऑक्सीजन गैस आपूर्ति नहीं होगी तब तक वह धरने पर बैठे रहेंगे।

इस दौरान कलेक्टर चेंबर में बैठे अलवर शहर विधायक और कलेक्टर नन्नू मल पहाड़िया में काफी नोकझोंक हुई।

श्री शर्मा ने बताया कि अलवर के हिस्से की ऑक्सीजन गैस को लेकर वह जिला कलेक्टर सहित कई प्रशासनिक अधिकारियों से फोन पर व्यक्तिगत रूप से कई बार मिल चुके हैं, लेकिन अलवर को ऑक्सीजन की सप्लाई सुचारू रूप से नहीं हुई है।

उन्होंने इस बात पर रोष व्यक्त किया कि अलवर से छोटा जिला होने के बावजूद भरतपुर जिले को 31 फ़ीसदी गैस आपूर्ति की जा रही है जबकि अलवर को मात्र 21 फ़ीसदी गैस आपूर्ति की जा रही है।

उन्होंने आरोप लगाया कि जिला कलेक्टर के तुगलकी आदेश से अब प्राइवेट हॉस्पिटल गैस के अभाव में मरीजों को डिस्चार्ज कर रहे हैं और कई अस्पतालों ने तो मरीजों को भर्ती करने से इन्कार कर दिया है।

उन्होंने इस बात पर भी रोष व्यक्त किया कि कोरोनावायरस सेम्पल की एक स्थान के अलावा कहीं भी नहीं किए जा रहे हैं।

सैंपल किट भी खत्म हो गई है।

विगत तीन दिन से अलवर के हालात बिगड़े हुए हैं।

From around the web

>