शिक्षकों के नवाचार सभी के लिये प्रेरणा बनेंगे : धनराजू एस

 

संचालक राज्य शिक्षा केंद्र धनराजू एस ने कहा कि शिक्षकों के नवाचार सभी के लिए प्रेरणा बनेंगे। सीहोर जिले के नसरूल्लागंज विकासखंड के वनग्राम नरेला की शासकीय माध्यमिक शाला की प्रधानाध्यापक श्रीमती माधुरी तितरे और हाईस्कूल खरसानिया के शिक्षक संतोष धनवारे ने आज राज्य शिक्षा केंद्र में संचालक धनराजू से मुलाकात की। उन्होंने कोरोना काल के दौरान किये गये नवाचारों की जानकारी संचालक को दी। दोनों शिक्षकों द्वारा किये गये नवाचारों को सराहते हुए धनराजू एस ने कहा कि शिक्षकों के नवाचार सभी के लिये प्रेरणा बनेंगे।

प्रधानाध्यापक श्रीमती माधुरी तितरे ने कोविड संकट काल के दौरान अपनाई गई दूरस्थ शिक्षा और ऑनलाइन शिक्षा विधियों तथा प्रयासों का दस्तावेजीकरण कर प्रकाशित किया है। पुस्तिका में उनके द्वारा अपनाई गईं लगभग 64 शिक्षण गतिविधियों का समावेश किया गया है। प्रधानाध्यापक श्रीमती तितरे ने संचालक धनराजू को पुस्तक भी भेंट की।

शिक्षक संतोष धनवारे ने स्वनिर्मित सहायक शिक्षण सामग्री का प्रदर्शन कर उसमें शामिल जानकारी से अवगत कराया। संचालक धनराजू ने इसे प्रदेश के अन्य शिक्षकों के लिए टीएलएम (सहायक शिक्षण सामग्री) की निर्माण विधि और उनका उपयोग कर विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करने के निर्देश उपस्थित अधिकारियों को दिए।

राज्य शिक्षा केंद्र के संयुक्त संचालक शीतांशु शुक्ल, उप संचालक डॉ. अशोक पारीक, शाला सिद्धि प्रकोष्ठ के दामोदर जैन, भाषा शिक्षा सलाहकार डॉ. लोकेश खरे एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

From around the web