मौतें दुःखद पर शराब माफियाओं की जानकारी प्रशासन को हर वर्ग के लोग दे: मीणा

 

डीएम यशपाल मीणा व एसपी धूरत सायली ने कहा है जिले में हुई मौतें दुखद है लेकिन समाज के हर वर्ग के लोग शराब बेचने वाले और पीने वालों की जानकारी जिला प्रशासन को जरूर दें  ताकि शराबबंदी कानून का बेहतर तरीके से पालन करा कर समाज में अमन कायम किया जा सके । जिले के दोनों आला अधिकारी समाहरणालय के सभाकक्ष में शुक्रवार को मीडिया कर्मियों को संबोधित कर रहे थे । डीएम ने कहा कि होली के पूर्व शराब माफियाओं के विरुद्ध व्यापक कार्रवाई की गई है। जिसमें समाज के अन्य वर्ग के लोगों के अलावा महिलाओं की भी भूमिका अहम रही है । उन्होंने कहा कि 23 जगहों पर शराब की बरामदगी तो महिलाओं की सूचना पर हुई है । डीएम ने कहा कि मरने वालों में से 3 के बिसरे को सुरक्षित रखा गया है । विधि विज्ञान प्रयोगशाला में जांच के बाद ही मौत के कारणों का सही सही पता लगाया जा सकता है। 

 नवादा की एसपी धूरत सायली ने विशेष तौर पर कहा कि निश्चित तौर पर लाशों को जलाने के बजाय सभी का पोस्टमार्टम कराया जाना चाहिए। चुपके से लोगों ने लाश जला दी लेकिन तीन लोगों का पोस्टमार्टम कराया गया है । 5 लोगों की मौत अन्य कारणों से हुई है ।इसे भी चिकित्सकों ने प्रमाणित किया। दोनों अधिकारियों ने मीडिया कर्मियों के साथ ही राजनीतिक दलों के जनप्रतिनिधियों के साथ भी बैठक कर जिले में शराब कारोबारियों की जानकारी देने का आग्रह किया है ।

डीएम ने  कहा कि किसी की भी तबीयत खराब हो और इस तरह के कुछ लक्षण की जानकारी मिले तो निश्चित तौर पर जिला प्रशासन को सूचित करें  ताकि उनका इलाज भी बेहतर तरीके से कराया जा सके ।डीएम ने सामाजिक वातावरण को बेहतर बनाने के लिए सभी को मिलजुल कर काम करने का भी आग्रह किया है। 

From around the web

>