पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने फोन पर दीदी को बधाई दी; बंगाल की जीत को ऐतिहासिक बताया

 

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ममता बनर्जी को पश्चिम बंगाल में जीत की बधाई दी। उन्होंने दीदी से फोन बात करते हुए कहा कि यह तो शानदार और ऐतिहासिक जीत है। मैं आपको मध्यप्रदेश आने का निमंत्रण देता हूं। इस पर ममता ने स्वीकारते हुए कहा कि वो मध्यप्रदेश जरूर आएंगी। कमलनाथ और ममता बनर्जी ने वर्षों एक साथ काम किया है। दोनों की देश के विभिन्न राजनीतिक विषयों व मुद्दों पर निरंतर चर्चा भी होती रहती है।

दमोह की जीत को सच की जीत बताया

कमलनाथ ने कहा कि दमोह में जीत आखिर सच की ही हुई। दमोह उपचुनाव के परिणाम से प्रदेश से भाजपा की उल्टी गिनती की शुरुआत हो गई है। भाजपा की जनता से पहले चुनाव को प्राथमिकता की नीति व सोच को जनता ने इस परिणाम से कड़ा सबक सिखा दिया है।

भाजपा के झूठ, झूठी घोषणाओं, झूठे शिलान्यास, झूठे भूमि पूजन ,सौदेबाजी व बोली की राजनीति, संवैधानिक व लोकतांत्रिक मूल्यों की हत्या, समाज को बांटने की राजनीति, नफरत की राजनीति के अंत की शुरुआत हो चुकी है। दमोह की जनता ने आज देश भर में संदेश दे दिया है कि वो किस रास्ते पर चलना चाहती है, उसने बता दिया कि वो सच्चाई के साथ है, भारत की जोड़ने वाली संस्कृति के साथ है।

भाजपा सरकार के पिछले एक वर्ष के नकारापन , कुशासन की सजा आज पूरा प्रदेश भुगत रहा है। इस परिणाम से यह स्पष्ट हो चुका है। मैं दमोह के मतदाता का आभार मानता हूं, जिन्होंने कांग्रेस पर भरोसा कर सच्चाई का साथ दिया। मैं कांग्रेस प्रत्याशी श्री अजय टंडन को जीत पर बधाई देता हूं।

उपचुनाव में हार का दर्द:गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने अपनों पर साधा निशाना; बोले-अपने जयचंदों के कारण दमोह में हम हारे, कांग्रेस तो देश में साफ हो गई

यह जश्न नहीं सेवा करने का समय

साथ ही उन सभी कांग्रेसजनों का भी आभार मानता हूं, जिन्होंने इस उपचुनाव में अपनी महती भूमिका निभायी। मैं प्रदेशभर के समस्त कांग्रेसजनों से अपील करता हूं कि अभी हमें कोई जश्न व उत्सव नहीं मनाना है , कोई विजय जुलूस व रैली नहीं निकालना है। अभी हमारी प्राथमिकता सिर्फ इस संकट काल में जनसेवा, पीड़ित व जरूरत मंद लोगों की मदद, उन्हें स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने से लेकर उनकी हर संभव मदद करना है।

From around the web

>