छत्तीसगढ़ में बढ़ा कोरोना का ग्राफ, बघेल सरकार ने दिए वर्क फ्रॉम होम के निर्देश

 

देश के अन्य हिस्सों के साथ छत्तीसगढ़ में भी कोरोना की तीसरी लहर का असर नजर आ रहा है और यहां मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। यही कारण है कि यहां इस बीमारी के संक्रमण को रोकने की दिशा में जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं, इसी क्रम में अधिकारियों और कर्मचारियों को घर से काम ( वर्क फ्रॉम होम ) करने का विकल्प दिया गया है।

राज्य के सामान्य प्रशासन विभाग के संयुक्त सचिव संजय कुमार अग्रवाल की ओर से तमाम अधिकारियों को जारी किए गए निर्देश में कहा गया है कि वर्तमान में कोरोना के फैलाव की स्थिति को देखते हुए इससे असुविधा होने पर भार साधक सचिव और विभागाध्यक्ष अपने निवास से वर्क फ्रॉम होम से कार्य कर सकेंगे। इसके साथ ही यह भी कहा गया है कि जिन कर्मचारियों की डयूटी (मैदानी) नहीं है, वह भी अपने घर पर रहकर कार्य कर सकेंगे।

इसके अलावा ऐसे अधिकारी जिन्हें कोरोना के चलते किसी भी तरह की असुविधा है और वे कार्यालय आने में असमर्थ हैं, तो वह भी घर में रहकर काम कर सकेंगे। बीमारी के बढ़ते असर के चलते अधिकारियों और कर्मचारियों को मुख्यालय न छोड़ने की हिदायत दी गई है। साथ ही कहा गया है कि वे अपने अधिकारियों से मोबाइल के माध्यम से संपर्क में रहें और आवश्यकता पड़ने पर उन्हें मंत्रालय सचिवालय में भी कार्य करने के लिए उन्हें बुलाया जा सकता है।

From around the web