सीएम गहलोत ने प्रदेश के लोगों से की अपील, कहा- सीमित एवं विवेकपूर्ण तरह से करें बिजली का इस्तेमाल…

 

देशभऱ में फिलहाल कोयले की कमी के कारण बिजली संकट हो गया है. राज्यों की सरकारें लगातार केंद्र सरकार को पत्र लिखकर इससे निजात पाने के लिए पत्र लिख रही हैं. कोयला मंत्री ने भी दो दिनों पहले बयान दिया था कि आने वाले दिनों में हालात सामान्य हो जाएंगे. लेकिन अभी स्थिति संभलती हुई नहीं दिख रही है. इसी बीच अब राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेश में बिजली संकट के चलते लोगों से बिजली का सीमित एवं विवेकपूर्ण इस्तेमाल करने की अपील की है.

आपूर्ति और मांग में आया बड़ा अंतर

श्री गहलोत ने सोशल मीडिया के जरिए आज यह अपील की. उन्होंने कहा कि प्रदेश ही नहीं, पूरा देश इस समय भयंकर बिजली संकट से जूझ रहा है. राजस्थान भी इससे अछूता नहीं है. मौसम तंत्र के परिवर्तन से बिजली की मांग अधिक हो गई है. मांग और आपूर्ति में अंतर बढ़ा है. यहीं कारण है सरकार के पास अभी कोई विकल्प नहीं दिखता है. उन्होंने कहा कि अभी के हालतों को देखते हुए हमें विवेकपूर्ण तरह से बिजली का प्रयोग करना चाहिए. शायद अभी के लिए ये ही सबसे अच्छा विकल्प है.

केंद्र सरकार से लगातार संपर्क में

सीएम गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार कोयले की आपूर्ति बढ़ाने के लिए निरंतर केंद्र सरकार के संपर्क में है. हमारी कोशिश है कि बिजली उत्पादन सुचारू रूप से चल सके एवं लोगों को निर्बाध बिजली आपूर्ति मिल सके. आप सभी से अपील है बिजली का सीमित व विवेकपूर्ण इस्तेमाल करें. जो बिजली उपकरण काम नहीं आ रहे हैं,उन्हें बंद रखें, बिजली बचाएं.

From around the web