मां की डांट से 11 साल का बच्चा साइकिल लेकर हरिद्वार के लिए निकला…जानिए आगे क्या हुआ

 
हम सबको पता है कि जब भी कभी भी मां की डांट पड़ती थी तो सबको डर लगता था और सभी के दिमाग में ख्याल आता था कि वो घर छोड़कर कई चले जाए। हाल ही में दिल्ली से एक ऐसा ही मामला सामने आया है जिसने सबको चौंका दिया है।11 वर्षीय बच्चा साइकिल से हरिद्वार के लिए निकला - Naya Indiaहैरान कर देने वाली बात है कि यहां पर मां के डांटने पर 11 साल के लड़के ने अपनी साइकिल लेकर हरिद्वार के लिए निकल गया। बच्चे के गायब होने पर माता पिता ने दक्षिण रोहिणी पुलिस स्टेशन में पुलिस से संपर्क किया और शुक्रवार रात को अपहरण का मामला दर्ज कराया गया।जब मैंने साइकिल चलाना सीखा | हिन्दीकुंज,Hindi Website/Literary Web Patrikaजिसके बाद पुलिस ने राष्ट्रीय राजमार्गों सहीत राज्य के रेल्वे स्टेशन बस स्टॉपों,सहीत कई जगहो पर बच्चे की तलाश शुरू की। माता पिता से पुछताछ में सामने आया है कि गायब होने से पहले वो घर पर गोला के लिए ट्रेन व पहाड़गंज रेलवे स्टेशन के बारे में पुछ रहा था वहीं मां के पर्स से भी 5 हजार रूपये गायब है।Nine Year Old Children Ride Bicycle 200 Km For Meet Mother In Delhi - 200  किमी दूर मां से मिलने साइकिल से निकला बच्चा, 35 किमी के बाद कही दिल छू लेनेसीसीटीवी फुटेज से यह भी पता चला कि नाबालिग लड़का नाहरपुर की तरफ अपनी साइकिल पर अकेला गया था। जिसके बाद बिना देर किए डीसीपी रोहिणी ने दक्षिण रोहिणी, एसएचओ इंस्पेक्टर संजय कुमार की निगरानी में कई पुलिस टीमे बनाई। जिसके तहल दिल्ली के आसपास के पार्क सड़के व अस्पतालों में बच्चे की तलाश शुरू कर दी।delhi news घर पर डांट खाने के बाद 11 वर्षीय बच्चा साइकिल से हरिद्वार के लिए  निकला 11 year old boy left for haridwar on cycle after getting scolded by  family | दिल्ली समाचारपुलिस ने नई दिल्ली रेलवे स्टेशन, पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन और हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन के पुलिस स्टेशनों पर भी पुछताछ की और ड्यूटी ऑफिसर को लापता बच्चे के बारे में सूचित किया गया। इसी बीच सुबह 4 बजे एक पुलिस की टीम सिंधू सीमा पर पहुंची और बच्चे को एक चाय की दुकान पर पाया। जहां पर वो पुछ रहा था कि हरिद्वार का रास्ता कोनसा है। नाबालिग बच्चे को सुरक्षित उसके माता-पिता को सौंप दिया गया।

From around the web

>