विराट और अनुष्का से ज्यादा इस कपल की शादी है चर्चा में, कारण जान कर रह जायेंगे सन्न
 

 

आज हम आपको एक ऐसी शादी के बारे में बताने जा रहे है, जिसकी चर्चा विराट और अनुष्का की शादी से भी ज्यादा हो रही है. जी हां विराट और अनुष्का की तरह लोग इस जोड़ी की तस्वीरें भी खूब शेयर कर रहे है. हालांकि ये कोई सेलिब्रिटी नहीं है, लेकिन फिर भी इन्हे काफी तवज्जु दिया जा रहा है. बता दे कि इसके जरिए लोग समाज को जागरूक करने की कोशिश कर रहे है. गौरतलब है कि यह शादी मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले के नागदा इलाके में हुई थी. यह शादी भी सोमवार को संपन्न की गई थी, जिसमे सैंकड़ो लोग शामिल हुए थे.

आपको जान कर ताज्जुब होगा कि यहाँ एक पिता ने अपने बेटे की मौत के बाद अपनी बहु को बिलकुल भी टूटने नहीं दिया. वैसे अगर आप सोच रहे है कि यहाँ लड़के के पिता ने खुद अपनी बहु के साथ शादी कर ली, तो आप गलत सोच रहे है. जी हां लड़के के पिता ने अपने छोटे बेटे से अपनी विधवा बहु की शादी करवा दी. बरहलाल गायत्री के देवर हितेश ने भी अपने पिता की बात मानते हुए, अपनी भाभी के साथ सात फेरे ले लिए. इसके इलावा इस शादी की तैयारी भी महीनो पहले ही शुरू हो गई थी. यानि दुल्हन के जोड़े से लेकर दूल्हे की शेरवानी तक हर चीज की खास तैयारी की गई थी.

इसके बाद सोमवार को दूल्हा दुल्हन माता के मंदिर में पूजन करने के लिए पहुंचे और फिर दोपहर तीन बजे मंडप का कार्यक्रम आयोजित किया गया. बरहलाल मंडप के बाद शाम को चार बजे दुल्हन को विवाह स्थल पर ले जाया गया. वही दूसरी तरफ दूल्हे की बारात निकालने की तैयारियां शुरू हो गई. इस दौरान बारात में सभी रिश्तेदारों ने जम कर डांस किया.

इसके बाद दूल्हा और दुल्हन दोनों को स्टेज पर ले जाया गया और वरमाला का कार्यक्रम शुरू किया गया. बता दे कि गायत्री को पहले पति से सात महीने की एक छोटी सी बच्ची भी है, जिसका नाम धन्वी है. मगर अपने बड़े बेटे को खोने के बाद गायत्री के ससुर ने न केवल उसे संभाला बल्कि उसकी कॉलेज की पढ़ाई भी पूरी करवाई. वही बच्ची के भविष्य को देखते हुए गायत्री के ससुर ने उसकी शादी अपने छोटे बेटे से करवाने का फैसला किया.

ये शादी वास्तव में एक बड़ी मिसाल है और इसलिए लोग इस खबर को ज्यादा से ज्यादा शेयर कर रहे है. इसके जरिए वो बाकी लोगो को भी जागरूक होने की सलाह दे रहे है.

From around the web