मौत के बाद भी कंकाल को साथ रखते है यह लोग

 

यह दुनिया बेहद ही विचित्र अंधविश्वास और परंपराओं से भरी है. इसमें कोई शक नहीं हम जितना इस दुनिया के बारे में गहरायी से जानेगें उतना ही ज़्यादा आश्चर्यचकित करने वाले तथ्य और क़िस्से हमारे सामने होंगे.

कहा जाता है , इस दुनिया में आने के बाद मनुष्य को सभी मोह माया और जंजालो से मुक्ति मौत के बाद ही मिलती है. मृत्यु के बाद ही इंसान मोक्ष पाता है इसलिए ही मृत शरीर का विधिविधान से क्रियाकर्म सभी धर्मों में होता है ताकि व्यक्ति ज़िंदगी की भागदौड़ से अलग शांति प्राप्त कर सके. लेकिन .. क्या हो जब मौत के बाद भी व्यक्ति के शरीर की दुर्गति उसके अपने ही कर दें. 


पापुआ में पहाड़ों के बीच रहने वाली यह जनजाति के लोग मृत शरीर को ममी बना देते है जिसे सुरक्षित रखने के लिए धुएँ का इस्तेमाल किया जाता है जिस से कंकाल लम्बे समय तक टिका रहता है. 1938 में एक फ़ोटोग्राफ़र द्वारा इस जाती की खोज की गयी और कुछ तस्वीरें सामने आयी जिसके बाद से पापुआ में आने वाले पर्यटक भी इसमें दिलचस्पी लेनें लगे.

From around the web