ऐसी बहूत सी बातें है जो माँ के गर्भ मे ही तय हो जाती है, जानिये क्या है वे बाते
 

 

ऐसा कहा जाता है कि बच्चा जब मां के गर्भ में हो तो कहते है कि मां को उसके बारे में कई तरह की चीजों के बारें में पता चल जाता है कि बच्चा पैदा होने के बाद जब वो नौकरी करेंगा तो उस नौकरी में वो कितने पैसे कमाएगा। इसके साथ ही गर्भ में बच्चा होने के दौरान कोई भी इंसान किस तरह अपने आप को नौकरी करने के लिए प्रेरित करेगा ये अहम बात होती है। आपको ये जानकर हैरानी होगी कि गर्भ में कई प्रकार से हलचल करता रहता है। ऐसे में मां के गर्भ में ही रहते हुए बच्चा बाहर की आवाजों को सुनकर गर्भ में कुछ हरकत करता है। वहीं वैज्ञानिकों की माने तो उन्होंने कहना है कि जब बच्चा मां के गर्भ में होता है तो तब वो भाषा सीखने लगता है। ऐसे में उन्होंने पाया है कि जब बच्चा अपने एक महीने पहले अंग्रेजी और जापानी भाषा के विभेद सुन सकता है। इसी को ध्यान में रखते हुए आचार्य चाणक्य ने शिशु के जीवन की कुछ बाते बताई है जो कोई भी बच्चा अपनी मां के गर्भ में ही कुछ बाते सीखा जाता है।

वही देखा गया है कि बच्चे के मां के गर्भ में रहने के दौरान बच्चे के स्वभाव में अंतर महसूस होता है मां को इससे इस बात का पता चलता है कि वे किस तरीके से अपने व्यवहार और अपने स्वभाव को मां के पेट में होने के बाद ही बदल देता है। इसके साथ ही कई शोध करने के दौरान देखा गया है कि अलग तरह से किसी भी भाषा से किसी दूसरी भाषा तक पहुंचने में बच्चे को ज्यादा समय नहीं लगता है ऐसे में किसी वस्तु को काटने की रफ्तार में कई तरह के बदलाव आ सकते है।

शायद इस ही बात को ध्यान में रखकर चाणक्य ने कुछ बातें बताई होगी जो कहा जाता है कि कोई भी बच्चा अपने मां के गर्भ में कई तरह की भाषों को सुनने के बाद उनको काफी हद तक सीख जाता है। आज हम आपको भी कुछ ऐसी ही बातों के बारें में बताने जा रहे है जिनके बारें में कहा जाता है कि ये बातें बच्चा अपनी मां के पेट में होने के दौरान ही सीख लेते है और उसके बाद मां के पेट में ही वो किसी भी सुनी हुई बात को अपनाने की कोशिश करता है और पेट में कई हरकत करता नजर आता है।

चाणक्य के अनुसार कहा गया है कि मां के गर्भ में उस आदमी की आयु के बारें में पता चलता है इसके साथ ही उसकी संम्पति के बारे में पता चलता है। इसके साथ ही कहा जाता है कि उस आदमी की मृत्यु किस वर्ष में होगी और कितने समय बाद होगी इसके बारें में पता चल जाता है। जब किसी भी इंसान का बुरा समय आता है तो ऐसे में उसका साथ सिर्फ संतान और पत्नी और सज्जन पुरुष ही देते है। विदया ऐसी चीज है जो आपको कभी भी धोखा नहीं देगी। विद्या आपका ख्याल घर में ही नहीं बल्कि विदेश में भी माता की तरह ख्याल रखती है।

From around the web