दुनिया का सबसे जहरीला पौधा, जिसे छूने मात्र से मौत हो सकती है

 

हम सभी जानते हैं कि पेड़ और पौधे हमारे पर्यावरण के लिए कितने महत्वपूर्ण हैं। इतना ही नहीं, लोग अपने घरों के आसपास हरियाली लाने के लिए पेड़ लगाते हैं। हालाँकि प्रकृति के साथ-साथ पेड़ भी हमें कई लाभ देते हैं, लेकिन कुछ पेड़ वास्तव में हमारे लिए खतरनाक हैं। इनमें से एक विशालकाय होगवीड है, जिसे किलर ट्री के नाम से जाना जाता है। जीनस गाजर के इस पौधे का वैज्ञानिक नाम हरक्यूलम मेंटागेनियम है।

यह पौधा इतना जहरीला होता है कि इसे छूने से हाथों पर त्वचा जल जाती है। इस प्रकार यह पौधा इतना सुंदर दिखता है कि ज्यादातर लोग इसे छूने के लिए ललचाते हैं। लेकिन इसे छूने के 6 घंटे के भीतर ही इसका दुष्प्रभाव शरीर पर दिखाई देने लगता है। वैज्ञानिकों का मानना ​​है कि ये पौधे सांपों की तुलना में अधिक विषैले हैं। यदि आप कभी इस पेड़ को छूते हैं, तो कुछ ही घंटों में आप महसूस करेंगे कि आपकी पूरी त्वचा जल रही है।

बताते चलें कि इस किलर ट्री की अधिकतम लंबाई 12 फीट है। यह पौधा ज्यादातर न्यूयॉर्क, पेंसिल्वेनिया, ओहियो, मैरीलैंड, वाशिंगटन, मिशिगन और हैम्पशायर में पाया जाता है। इस पौधे के बारे में डॉक्टरों का कहना है कि अगर कोई इस पौधे को छूता है तो उसकी आंखों की रोशनी खोने का खतरा भी बढ़ जाता है। अब तक, इस पौधे से हुए नुकसान की भरपाई के लिए कोई सटीक दवा विकसित नहीं की गई है।

विशालकाय हॉगवीड एक रसायन के कारण विषैला होता है जिसे सेंसिटाइज़िंग फुरानोकौमा रिंस कहा जाता है जो इसके अंदर पाया जाता है, जो इसे खतरनाक बनाता है। लेकिन इस संयंत्र की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि यह वातावरण में ऑक्सीजन और कार्बन डाइऑक्साइड को संतुलित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

From around the web

>