साल 1911 में इस ट्रेन के साथ हुआ अब तक का सबसे भयावह हादसा, जो आज तक बना है रहस्य!

 

 रेल का सफर हम में से लगभग सभी को पसंद है। हवाई यात्रा करने से पहले भले ही लोग एक बार के लिए हिचकिचाए, लेकिन रेलगाड़ी में बैठकर यात्रा करना बच्चे से लेकर वयस्क तक सभी को पसंद है।शायद यही वजह है कि आज भी लोग लंबी दूरी के लिए ट्रेन से ही सफर करना पसंद करते हैं। आज हम आपको ट्रेन से ही संबंधित एक ऐसी बात बताने जा रहे हैं जिसे सुनकर आप हैरान रह जाएंगे।

हम एक ऐसे ट्रेन के बारे में बात कर रहे हैं जो साल 1911 में बेहद रहस्यमयी ढंग से गायब हो गई थी। बता दें, 'जानेती' नाम की यह ट्रेन इतालियन यात्रियों को लेकर रोम से लोम्बार्ड जा रही है। इस बीच उसे एक सुरंग में से होकर गुजरना था। जैसे ही यह ट्रेन एक सुरंग के अंदर गई तो गायब हो गई। ट्रेन में बैठे लोगों को शायद इस बात का अंदाजा भी नहीं था कि वे अचानक इस तरह से गायब हो जाएंगे। 3 डिब्बे वाले इस ट्रेन में कुल 106 यात्री सफर कर रहे थे जिनमें से केवल दो लोगों को बचाया जा सका।

इन दोनों का कहना था कि ट्रेन जैसे ही सुरंग के नजदीक गई तो उसमें से धुआं उठने लगा और सब कुछ दिखना बंद हो गया। बस इस भयावह नजारे को देखकर ये दो यात्री ट्रेन से कूद गए। इनका कहना था कि जैसे ही ट्रेन एक बड़े पहाड़ के नीचे बनी सुरंग के अंदर गई तो गायब ही हो गई। बाद में ट्रेन और इसमें बैठे अन्य यात्रियों को काफी खोजा गया लेकिन इसके बारे में किसी को कोई सुराग नहीं लगा। लगभग एक किलोमीटर लंबी सुरंग में पूरी की पूरी ट्रेन कहां गुम हो गई यह रहस्य आज तक बना हुआ है। जो दो लोग ट्रेन से कूदे थे उन्हें जब होश आया तो वे काफी सदमे में थे, उनकी मानसिक स्थिति सही नहीं थी हालांकि बाद में सामान्य अवस्था में आने पर उन्होंने इस बात की जानकारी दी।

From around the web