8 महीने पहले गिरफ्तार हुए मुर्गे को पुलिस ने छोड़ा,जानिए मामला

 
अक्सर देखते है कि जब भी कोई इंसान किसी भी तरह का जुर्म करता है तो उसका सजा भुगतनी पड़ती है। लेकिन पिछले कुछ समय से कई अजीबो गरीब मामले सामने आ रहे है जिनके बारे में जानकर विश्वास नहीं किया जा सकता है।आज हम आपको एक ऐसा ही मामला बताने जा रहे है जिसके बारे में जानकर आपके होश उड़ जाएंगे। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ये मामला पाकिस्तान से सामने आय़ा है। यहां पर 8 महीने पहले एक मुर्गे को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। जिसके बाद अब उसको रिहा किया गया है।बताया जा रहा है कि सिंध प्रदेश के दो थानों में कुल पांच मुर्गे रिरफ्तार थे। उन मुर्गों का जुर्म था कि वो लड़ाई कर रहे थे। पाकिस्तान में मुर्गों की झगड़े को अपराध करार दिया गया है। इसके लिए एक वर्ष तक की कैद या पांच सौ रुपये का जुर्माना लग सकता है। कुछ महीने पहले ही 12 लोगो को व पांच मुर्गों को पुलिस ने हिरासत में लिया था। सभी लोग तो जमानत पर छुट गए।लेकिन मुर्गे जेल में ही रह गए। इस मामले में कोर्ट ने फैसला सुनाया कि पुलिस की निगरानी में रहकर मुर्गों को उनको सौप दिया जाए। जिसके बाद पुलिस की निगरानी में सभी मुर्गों को मालिकों को दे दिया गया। लिस ने मुर्गों को लॉकअप या बाड़े की जगह पर खुले स्थान पर रखा। लेकिन मुर्गों के एक पैर में रस्सी बांधकर रखा गया।

From around the web

>