एक बार में अगर अंदाजा लगा लिया की क्या कहना चाह रही हैं ये तस्वीरें तो वाकई जीनियस हैं आप, एक बार जरूर देखें
 

 

युवाओं में किसी और चीज का क्रेज आजकल हो ना हों लेकिन फोटोग्राफी का क्रेज जरूर रहता है। भले ही लोगों को फोटो लेना आता हो चाहे ना आता हो लेकिन गले में कैमरा लटकाकर जरूर घूमेंगे। आज हम आपको कुछ ऐसी तस्वीरें दिखने जा रहे हैं जिन्हें पहली बार में देखकर आपके लिए भी अंदाजा लगा पाना मुश्किल होगा की आखिर ये तस्वीर है किस चीज़ की और इसे कैसे लिया गया है। आज हम आपको जो तस्वीरें दिखाने जा रहे हैं वो दरअसल ऑप्टिकल इल्यूजन का कमाल है लेकिन कमाल ऐसा की एक बार देखने पर आप तस्वीर को शायद ही समझ पाएंगे। तो आईये देखते हैं कुछ खास अद्भुत तस्वीरें।

पहली तस्वीर


इस तस्वीर को देखकर किसी को भी ये लग सकता है की ये महिला कितनी शक्तिशाली है जिन्होनें इन दो लड़कियों को अपने हाथों पर उठा रखा है। लेकिन वास्तव में ऐसा कुछ नहीं है इस लेडी ने किसी को भी अपनी हथेली उठया है बल्कि अगर अप्प इस तस्वीर को दोबारा से देखे तो आपको पता चल पायेगा की ये महिला बैठी हैं और बाकी की दो महिलाएं दूर खड़ी हैं। इस तस्वीर में अगर कोई कमाल की बात है तो वो है फोटोग्राफर के तस्वीर लेने का एंगल जिसने इस तस्वीर को एक आम तस्वीर से खास तस्वीर बना दिया।

दूसरी तस्वीर


इस तस्वीर को देखकर एक बार को आपको जरूर झटका लगा होगा की आखिर दुनिया के किस कोने में ये दो मुह्ह वाले ज़ेब्रा पाए जाता हैं। जरा अपनी सोच पर लगाम लगाएं क्यूंकि ये दो मुह्ह वाला जेब्रा नहीं है बल्कि दो ज़ेब्रा की तस्वीर है जिसे इस ढंग से ली गयी है की पहली बार में देखकर अंदाजा लगा पाना कतई मुश्किल है की ये दो ज़ेब्रा है या फिर दो मुह्ह वाला ज़ेब्रा। भाई वाह आप भी इस फोटोग्राफर के टैलेंट को तो जरूर मान गए होंगे।

तीसरी तस्वीर


अब जरा इस तस्वीर पर गौड़ फरमायें आपको पहली बार में देखकर ऐसा लगा होगा की कोई मोटा भद्दा आदमी नग्न अवस्था में कुर्सी पर बैठा है। अब अगर आप इस तस्वीर को दोबारा से देखे तो आपको पता चलेगा की ये दरअसल में किसी एक पेंटिंग है और इसके पीछे एक इंसान को खड़ा कर दिया गया है जिसे देखने पर ऐसा प्रतीत हो रहा है की ये पूरी तस्वीर उस व्यक्ति की हो। दाद देनी चाहिए ऐसे कैमरा पर्सन की जिसने इतनी कलाकारी के साथ ये तस्वीर ली है।

चौथी तस्वीर


इस तस्वीर को देख कर तो किसी के भी होश उड़ जाए, पहली नजर में देखकर कोई भी सोचने पर मजबूर हो सकता है की आखिर इस तस्वीर में जो लड़की है उसके पैर कहाँ गए। लेकिन जनाब अब अगर आप दोबारा गौर फरमाए इस तस्वीर पर तो आप जान पाएंगे की इस तस्वीर को लेने में कितनी बारीकी के साथ मिरर का उपयोग किया गया है और यहीं वजह की पहली बार में लड़की के पैर ना दिखाई देना किसी को भी अचंभित कर सकता है।

पांचवी तस्वीर


अरे नहीं, अपनी सोच पर जरा काबू रखिये और इस तस्वीर को एक बार फिर गौर से देखिये आपको समझ आजयेगा की आप जैसा सोच रहे हैं वैसा नहीं है। जी हाँ दरअसल इस तस्वीर को लेने में ऑप्टिकल ज़ूम का इस तरह से उपयोग किया गया है की कोई भी पहली बार में देखकर चकरा जाए। ये सारा कमाल फोटोग्राफर साहब का है जिन्होने इस मामूली सी तस्वीर को इतना ख़ास बना दिया।

From around the web