इस लड़की के मास्क बनाने के तरीके का हर कोई हुआ दीवाना, प्रधानमंत्री मोदी भी कर चुके है प्रशंसा

 
कोरोना वायरस ने कई लोगों को नया करने का मौका दिया है। लॉकडाउन के दौरान घरों में कैद लोगों ने बहुत कुछ नया सीखा है। जिसकी हर कोई तारीफ कर रहा है। आज आपको एक ऐसी महिला के बारे में बता रहे है जिसकी तारीफ हर कोई कर रहा है। आपको यह जानकार ताज्जूब होगा कि इस महिला की प्रशंसा खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी कर चुके है।

मणिपुर में बिसेनपुर जिले की रहने वाली 27 वर्षीय टोंगब्रम बिजयशांति ने कमल के डंठल से मास्क बनाया है। बता दें कि बिजयशांति बहुत पहले से ही कमल के डंठल से धागा और कपड़ा बनाती हैं। उनके साथ इस काम में 15 महिलाएं काम करती हैं और इसके साथ ही 20 महिलाओं को प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है। बिजयशांति मणिपुर के प्रसिद्ध लोकतक झील के पास थंगा टोंगब्रम इलाके की निवासी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने रडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में बिजयशांति के प्रयासों की सराहना की है। मणिपुर के मुख्यमंत्री एन. बीरेन सिंह ने ट्वीट कर बिजयशांति के डंठल से धागा और कपड़ा बनाने के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने ट्वीट किया, ‘मन की बात में माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कमल की डंठल से धागा बनाने वाली मणिपुर की बिजयशांति की सराहना की। उनके प्रयासों ने कमल की खेती और वस्त्र उद्योग के नए आयाम खोल दिए हैं।’ आपको बता दें कि कमल के डंठल से बने कपड़ों की विदेशों में बहुत मांग है।

From around the web