मुझे गोली मत मारना…गले में तख्‍ती लटकाए इनामी बदमाश ने किया अनोखा सरेंडर

 
उत्तर प्रदेश पुलिस यानी यूपी पुलिस के आठ कर्मचारियों को मौत के घाट उतारने वाला सूबे का तथाकथित कुख्यात अपराधी विकास दुबे पर 60 से अधिक आपराधिक मामले चल रहे थे। बीते 10 जुलाई को मध्य प्रदेश के उज्जैन में महाकाल मंदिर में दर्शन करते जाते समय उसे मंदिर परिसर से ही गिरफ्तार किया गया था।इनामी बदमाश गले में एक तख़्ती लटका कर आत्मसमर्पण के लिये पहुँचा थानेलेकिन गिरफ्तारी के बाद उज्जैन से कानपुर लाने के दौरान पुलिस वाहन से कूदकर भागने के क्रम में एनकाउंटर में वह मारा गया था।  उत्तर प्रदेश में बिकरू के बदमाश विकास दुबे के एनकाउंटर से बदमाशों के बीच तानेखौफ नजर आने लगा है. आज हम आपको एक ऐसा ही मामला बताने जा रहे है जिसके बारे में जानकर आप यकीन नहीं कर पाएंगे।UP में योगी सरकार का खौफ, गले में तख्ती डाल सरेंडर को पहुंचा बदमाश, कहा- मत  मारना गोलीसूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश के संभल के एक बदमाश ने अनोखे तरीके से आत्मसर्पण किया है जो सबसे अलग था। सरेंडर के समय इसने डर से गले में तख्ती लटका रखी थी। इस मामले में पुलिस के मुताबिक बदमाश का नाम नईम है जिस पर 15 हजार का इनाम है। सरेडंर के समय इसने जो तख्‍ती लटका रखी थी उस पर लिखा था,Sambhal criminal appeal police for not to shoot‘मैंने गलत काम किया है. मुझे संभल पुलिस से डर लगता है. मैं अपनी गलती स्‍वीकार करता हूं. मैं अपराधी हूं और आत्‍मसमर्पण करता हूं. मुझे गोली मत मारो। बता दें कि पुलिस को नईम की काफी दिनों से तलाश थी। गोकशी व गैंगस्‍टर ऐक्‍ट में वो वांछित अपराधी था. पर अब नईम ने खुद ही पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया है।

From around the web

>