Nitish Kumar Modis meeting मोदी की बैठक में नीतीश नहीं होंगे

0
30

नई दिल्ली। पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के विदाई समारोह और राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के शपथ समारोह में शामिल नहीं होने के बाद अब बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार केंद्र सरकार के एक और कार्यक्रम से नदारद रहेंगे। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार रविवार को होने वाली नीति आयोग की गवर्निंग कौंसिल की बैठक में शामिल नहीं होंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस बैठक की अध्यक्षता करने वाले हैं।

बताया जा रहा है कि कोरोना से हाल ही में ठीक हुए नीतीश कुमार अपने उप मुख्यमंत्री को बैठक में भेजना चाहते थे, लेकिन उनसे कहा गया कि इसमें सिर्फ मुख्यमंत्री ही शामिल हो सकते हैं, उनका कोई प्रतिनिधि नहीं। ऐसे में इस बार बिहार का कोई प्रतिनिधित्व प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता वाली इस बैठक में नहीं होगा। हालांकि, यह भी बताया जा रहा है कि नीतीश कुमार के हर सोमवार को होने वाले जनता दरबार में मौजूद रहेंगे। उनके स्वास्थ्य की वजह से पिछले कुछ हफ्ते से जनता दरबार नहीं लगाया जा रहा था।

बताया जा रहा है कि भाजपा और जनता दल यू के बीच संबंध बिगड़ गए हैं और बिहार में भाजपा नेताओं की ओर से नीतीश सरकार पर किए जाने वाले हमलों से नीतीश नाराज हैं। यह भी कहा जा रहा है कि नीतीश कुमार नीति आयोग की रैंकिंग से नाराज रहते हैं क्योंकि बिहार को नीति आयोग की हर रैंकिंग में हमेशा सबसे नीचे रखा जाता है। इसकी वजह से वे विपक्षी पार्टियों के निशाने पर भी रहते हैं।

ध्यान रहे इससे पहले नीतीश कुमार तत्कालीन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के सम्मान में आयोजित विदाई भोज से भी दूर रहे थे। फिर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के शपथ समारोह में भी वे शामिल नहीं हुए। इसके अलावा नीतीश कुमार केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा बुलाई गई मुख्यमंत्रियों की बैठक में भी शामिल नहीं हुए थे। पिछले दिनों भाजपा की एक अहम बैठक पटना में हुई थी, जिसमें भाजपा के दो सौ सीटों पर चुनाव लड़ने की चर्चा हुई, इससे भी नीतीश की पार्टी नाराज है।