अनजाने में एलओसी की थी पार, वापस पाकिस्तान भेजा गया

 

जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में ​तेथवाल क्रॉसिंग पॉइंट से 5 अप्रैल की रात को अनजाने में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पार करने वाले युवक को बुधवार को वापस पाकिस्तान भेज दिया गया। जाते समय युवक को भारत की ओर से मिठाई, कपड़े और गिफ्ट दिए गए।

पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) की लीपा घाटी निवासी मंज़ूर अहमद का बेटा मौसाम अनजाने में 5 अप्रैल की रात को जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में ​तेथवाल क्रॉसिंग पॉइंट से एलओसी पार करके भारतीय क्षेत्र में आ गया।​​ भारतीय सैनिकों ने उसे रातभर नियंत्रण रेखा पर रखा और पाकिस्तानी अधिकारियों को इस बारे में सूचना दी। बाद में हॉटलाइन पर भारत-पाकिस्तान के अधिकारियों के बीच बातचीत हुई जिसके आधार पर भारतीय अधिकारियों ने ​​मानवीय आधार पर बुधवार को तेथवाल क्रॉसिंग पॉइंट पर पाकिस्तानी अधिकारियों को सौंप दिया।​ 

अधिकारियों ने कहा कि युवक को आज सुबह 11.50 बजे पाकिस्तान अधिकारियों को सौंपा गया। ​इस तरह अनजाने में सीमा पार करने के कई मामले पहले भी हुए हैं, जिसकी मुख्य वजह नियंत्रण रेखा के साथ दोनों तरफ गांवों की निकटता है। हालांकि, भारतीय पक्ष हमेशा मानवीय मुद्दे को ध्यान में रखते हुए अनजाने में भारतीय सीमा में आने वाले लोगों को वापस करने में तत्पर रहा है।

From around the web

>